संवाद सहयोगी, पांडवेश्वर (दुर्गापुर)। ईसीएल के लावदोहा थानांतर्गत पांडवेश्वर क्षेत्र के मधाईपुर ओसीपी के पास मंगलवार रात को अवैध खनन के कारण चाल गिरने की घटना हुई। जिसके कारण एक ही परिवार के पांच लोग चपेट में आ गए‌ मौके पर ही चार लोगों की मौत हो गई। जिनकी पहचान अन्नाहोरी बाउरी (50), श्यामल बाउरी(30), पिंकी बाउरी(23) एवं नटवर बाउरी (25) के रूप में हुई है। किशोर बाउरी की स्थिति अत्यंत गंभीर बताई जा रही है, जिन्हें इलाज हेतु दुर्गापुर अनुमंडल अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

घटना के बाद जेसीबी मशीन के सहारे बुधवार सुबह कोयले का चट्टान हटाकर मृतकों का शव बाहर निकाला गया। जिसे पुलिस ने पोस्टमार्टम हेतु जिला अस्पताल भेज दिया है। बताया जाता है कि ओसीपी के पास सुरंग बनाकर अवैध खनन हो रहा था। जिसके कारण यह घटना हुई। कोयला तस्करी को लेकर अनूप माझी उर्फ लाला के गिरोह के खिलाफ नकेल कसने के बाद भी ईसीएल में अवैध ढंग से कोयला खनन जारी है, जिसका नतीजा है कि ऐसी घटनाएं हो रही है। स्थानीय लोग ईसीएल प्रबंधन के साथ-साथ सीआइएसएफ एवं पुलिस को कठघरे में खड़ा कर रहे है।

स्थानीय टीएमसी नेता काजल घोष ने बताया कि इलाके के कुछ लोग जीविका चलाने के लिए यह कार्य करते थे। हालांकि स्थानीय सूत्रों की माने तो पिछले लंबे समय से यहां कोयला चोरी की घटना हो रही थी। अब यहां यहां एक प्रश्न खड़ा होता है कि जब सीआईएसफ को ऐसे अवैध गतिविधियों पर अंकुश लगाने के उद्देश्य से रखा गया है, फिर प्रत्येक दिन इतनी मात्रा में कोयला चोरी कैसे हो रही थी। घटना के बाद पांडवेश्वर के विधायक नरेंद्रनाथ चक्रवर्ती भी घटनास्थल पर पहुंचे, उन्होंने घटना को लेकर अपनी पीड़ा व्यक्त की एवं पीड़ित परिवार को सहयोग का आश्वासन दिया। 

Edited By: Priti Jha