कूचबिहार, संवाद सूत्र। बंगाल में एनआरसी लागू करने के लिए हम अदालत का दरवाजा खटखटायेंगे। बंगाल में एक करोड़ से अधिक बांग्लादेशी घुस गए है। यहां के युवकों की नौकरी खा रहे है। बंगाल की जनता इसके लिए अब मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को वोट नहीं देगी।

इसलिए बांग्लादेशी घुसपैठियों को सरंक्षण देकर एनआरसी का तृणमूल विरोध कर रही है। यह कहना है भाजपा के राज्य अध्यक्ष दिलीप घोष का। मंगलवार को दिलीप घोष कूचबिहार के भाजपा पार्टी कार्यालय में पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के पहाड़ दौरे के संबंध में भाजपा के राज्य अध्यक्ष ने कहा कि पहाड़ पर मुख्यमंत्री विनय तमांग को नेता बनाना चाहती है। लेकिन वहां की जनता को वो पसंद नहीं है। गोर्खा जन मुक्ति मोर्चा अभी अभिभावकहीन हो गयी है।

विमल गुरूंग को पहाड़ आने से रोका जा रहा है। सिलीगुड़ी में हम पहाड़ के नेताओं के साथ मिलकर वहां की समस्या को लेकर बैठक करेंगे। तृणमूल के अपने ही घर में इतना विवाद हो रहा है कि मुख्यमंत्री खुद अपने घर को संभाल नहीं पा रही है। वह भाजपा को क्या तोड़ेगी।

उत्तर बंगाल में भाजपा आगे बढ़ रही है। तृणमूल का पार्टी कार्यालय बम कारखाना के रूप में परिणत हो गया है। गौरतलब है कि कूचबिहार के सुकांत मंच पर आज सांगठनिक बैठक बुलायी गयी। नवगठित कमेटी को लेकर विचार-विमर्श किया गया। 

Posted By: Preeti jha