जासं, कोलकाता। सीएस अनिल कुमार दुबे को वर्ष 2022 के लिए भारतीय कंपनी सचिव संस्थान (आइसीएसआइ के ईआईआरसी) के पूर्वी भारत क्षेत्रीय परिषद के अध्यक्ष के रूप में चुना गया है। 19 जनवरी को उन्हें इस पद के लिए चुना गया है। ईआईआरसी की ओर से जारी एक बयान में बताया गया कि सीएस अनिल कुमार दुबे इंस्टीट्यूट आफ कंपनी सेक्रेटरीज आफ इंडिया के फेलो सदस्य हैं। वह इससे पहले वर्ष 2019 में आइसीएसआइ के ईआईआरसी के सचिव रह चुके हैं।

बयान में बताया गया कि वह एक प्रसिद्ध प्रैक्टिसिंग कंपनी सचिव (पंजीकृत मूल्यांकक) हैं और यहां तक कि कानून में डिग्री भी रखते हैं। सीएस दुबे पूर्वी भारत में कारपोरेट्स को परामर्श सेवाएं प्रदान करने में सक्रिय रूप से जुड़े हुए हैं और वे लायंस क्लब से भी जुड़े हुए हैं। दुबे आइसीएसआइ और अन्य प्रतिष्ठित पेशेवर निकायों में एक नियमित संकाय हैं और विभिन्न सामाजिक निकायों और संगठनों से भी जुड़े हुए हैं। सीएस अनिल कुमार दुबे को वर्ष 2022 के लिए भारतीय कंपनी सचिव संस्थान (आइसीएसआइ के ईआईआरसी) के पूर्वी भारत क्षेत्रीय परिषद के अध्यक्ष के रूप में चुना गया है।

दक्षिण पूर्व रेलवे में नए प्रिंसिपल चीफ कामर्शियल मैनेजर बने ओवैस

 इधर, मोहम्मद ओवैस को दक्षिण पूर्व रेलवे का नया प्रिंसिपल चीफ कामर्शियल मैनेजर बनाया गया है। दक्षिण पूर्व रेलवे का मुख्यालय कोलकाता में ही है और इसका क्षेत्राधिकार बंगाल के कुछ इलाके एवं झारखंड में है। एक बयान में बताया गया कि इसके पहले ओवैस फ्रेट मार्केटिंग एंड क्लेम्स विभाग में चीफ कामर्शियल मैनेजर के पद पर तैनात थे। मोहम्मद ओवैस आइआरटीएस के 1989 बैच के वरिष्ठ अधिकारी हैं। इससे पहले वे भारतीय रेलवे में कई महत्वपूर्ण पदों पर काम कर चुके हैं। इनमें जोनल ट्रेनिंग सेंटर में प्रिंसिपल, धनबाद में सीनियर डिविजनल कामर्शियल मैनेजर व अन्य शामिल हैं। इसके अलावा वे हज कमेटी आफ इंडिया के भी सीइओ रह चुके हैं। 

Edited By: Priti Jha