राज्य ब्यूरो, कोलकाता : कोरोना के टीके का पर्याप्त स्टॉक नहीं होने के कारण बंगाल में सोमवार से 18 से 44 वर्ष के उम्रवर्ग के लोगों का टीकाकरण शुरू नहीं हो पाया। राज्य के स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि 18 से 44 वर्ष की उम्र के लोगों का कोरोना का टीकाकरण के लिए रोजाना कम से कम पांच लाख टीके की जरूरत पड़ेगी। फिलहाल इतना स्टॉक राज्य सरकार के पास उपलब्ध नहीं है इसलिए सोमवार से कोरोना का टीकाकरण शुरू नहीं हो पाया। फिलहाल हमारे पास रोजाना के लिए दो से तीन लाख कोरोना का टीका ही उपलब्ध है। हम स्थिति का जायजा लेने के बाद इस उम्रवर्ग के लिए टीकाकरण की दिशा में आगे बढ़ेंगे।

गौरतलब है कि बंगाल में कोरोना संक्रमत के मामलों में पिछले कुछ दिनों में तेजी से गिरावट हुई है,हालांकि इसके साथ ही कोरोना की जांच में भी कमी हुई है।

बंगाल में दैनिक संक्रमण का आंकड़ा 2000 के आसपास हो गया है।

Edited By: Vijay Kumar