राज्य ब्यूरो, कोलकाता। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दुर्गोत्सव के समय किसी तरह की प्राकृतिक आपदा नहीं होने के लिए मां दुर्गा से प्रार्थना की है। मुख्यमंत्री दक्षिण कोलकाता के मशहूर सुरुचि संघ के पूजा मंडप का उद्घाटन करने के लिए पहुंची थी। उस समय हल्की बारिश हो रही थी।

मुख्यमंत्री ने सुरुचि संघ के पूजा मंडप का उद्घाटन करने के दौरान मां दुर्गा से इस मौके पर किसी तरह की प्राकृतिक आपदा नहीं होने की प्रार्थना की। उन्होंने कहा कि वह चाहती हैं कि दुर्गोत्सव पर सभी लोग मिलकर खुशी मनाएं। सभी लोग उत्सव का आनंद उठाएं। लेकिन मौसम खराब होने से लोगों का उत्साह कम होने की आशंका बढ़ रही है। इसलिए वह मां दुर्गा से सबसे बड़े त्योहार पर किसी तरह की प्राकृतिक आपदा नहीं होने के लिए प्रार्थना करती हैं। उन्होंने कहा कि प्रकृति पर हमारा नियंत्रण नहीं है।

इसलिए सबको खराब मौसम को लेकर सतर्क रहने की जरूरत है। वह खुद परिस्थिति पर नजर रख रही हैं। उन्होंने जिला प्रशासन को भी सतर्क किया और एहतियात के तौर पर आवश्यक कदम उठाने का निर्देश दिया है। मुख्यमंत्री ने दुर्गापूजा पर राज्यवासियों को बधाई दी। उन्होंने कुछ लोगों के बारिश में भींगते देख उनको स्वास्थ्य पर खयाल रखने की हिदायत दी। उन्होंने पुलिस कर्मियों और प्रशासन के अन्य कर्मियों को पूजा के दौरान कड़ी ड्यूटी निभाने और कड़ी मेहनत करने की सराहना की।

उन्होंने कुछ पुलिस कर्मियों को बारिश में भींग कर ड्यूटी करते देख उन्हें भी नसिहत दी। बारिश होने पर मुख्यमंत्री ने पुलिस कर्मियों को वाटरप्रुफ जैकेट पहनने और छाता का इस्तेमाल करने की सलाह दी। सुरुचि संघ के बेहतर पूजा मंडप तैयार करने के लिए मुख्यमंत्री ने अपने मंत्री अरूप विश्वास की सराहना की।

उन्होंने कहा कि इस बार सुरुचि संघ ने दुर्गा प्रतिमा को सजाने में जो टेरोकेटा मूर्तिकला का प्रयोग किया है वह श्रद्धालुओं के लिए आकर्षण का केंद्र बनेगा। इसके अतिरिक्त मुख्यमंत्री ने कालीघाट के फारवर्ड क्लब और आलापी पूजा मंडप का उद्घाटन किया।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस