कोलकाता, राज्य ब्यूरो। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के दक्षिण बंगाल फ्रंटियर के जवानों ने बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले के रास्ते एक खाली ट्रक में विभिन्न प्रकार के सामानों को छिपाकर बांग्लादेश ले जाने के प्रयासों को नाकाम करते हुए ट्रक जब्त करने के साथ एक तस्कर को गिरफ्तार किया।

बीएसएफ द्वारा जारी बयान के मुताबिक, ट्रक सहित जब्त किए गए सामानों की अनुमानित कीमत 10 लाख 27 हजार रुपये आंकी गई है। सामानों को ट्रक के केबिन के अंदर छिपाकर उत्तर 24 परगना में स्थित इंटीग्रेटेड चेक पोस्ट (आईसीपी) पेट्रापोल के माध्यम से बांग्लादेश ले जाया जा रहा था।

बयान के मुताबिक, 17 दिसंबर को आइसीपी पेट्रापोल पर सीमा सुरक्षा बल के 179वीं वाहिनी, सेक्टर कोलकाता के जवानों द्वारा आइसीपी के अंदर आयात कार्गो कॉम्प्लेक्स की तरफ जाने वाले सभी खाली वाहनों की नियमित जांच की जा रही थी। इसी दौरान जांच दल ने एक संदिग्ध भारतीय ट्रक ( WB41C 4423 टाटा ट्रक ) जो कि बांग्लादेश की तरफ से आने वाला निर्यात का माल लेने आयात कार्गो कॉम्प्लेक्स में जा रहा था। तभी तलाशी के दौरान 4,27,075 रुपये मूल्य की विविध सामग्री मिली जो ट्रक के केबिन के अंदर छुपा रखे थे। इसे बिना उचित दस्तावेज के बांग्लादेश ले जाया जा रहा था। जवानों ने तत्काल ही ट्रक के चालक को हिरासत में ले लिया। गिरफ्तार व्यक्ति की पहचान सुकुमार हलदर (48), गांव- जॉयपुर, पोस्ट- छयघड़िया , थाना– बनगाव, जिला– उत्तर 24 परगना के रूप में हुई है।

प्रारंभिक पूछताछ के दौरान ट्रक चालक ने बताया कि वह चालक के रूप में काम करता है। आइसीपी पर आने के दौरान ट्रक मालिक सत्याब्रत शाहा (गांव- मोतीगंज, थाना – बनगाव, जिला – उत्तर 24 परगना ) ने इन सभी सामानों को दिया था तथा उसने बताया कि इन सामानों को बांग्लादेशी ट्रांसपोर्टर इदरिस को देना है जो निर्यात कार्गो कॉम्प्लेक्स में बांग्लादेश जाने वाली ट्रक मे पहुंचना था। इसके लिये उसे 500 रुपये मिलते। लेकिन वाहन जांच के दौरान गेट नंबर तीन पर सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने उसे पकड़ लिया। बीएसएफ ने आगे की कानूनी कार्रवाई के लिए ट्रक और जब्त सामानों के साथ गिरफ्तार तस्कर को थाना पेट्रापोल को सौंप दिया है।

बीएसएफ अधिकारी ने जताई खुशी

इधर, कमांडिंग ऑफिसर, अरुण कुमार, 179वीं बटालियन, बीएसएफ ने अपने जवानों की उपलब्धियों पर खुशी व्यक्त की है, जिसके परिणामस्वरूप ट्रक के साथ-साथ एक तस्कर की गिरफ्तारी हुई। उन्होंने कहा कि यह केवल ड्यूटी पर मौजूद उनके सैनिकों द्वारा प्रदर्शित सतर्कता के कारण ही संभव हो सका है। उन्होंने आगे कहा कि उनके जवान सीमा पर अपराधों के लिए शून्य शाहिष्णुता के संकल्प को पूरा करने के लिए पूरी तरह से दृढ़ और प्रतिबद्ध हैं, जो कि महानिरीक्षक, साउथ बंगाल फ्रंटियर सीमा सुरक्षा बल, कोलकाता द्वारा शुरू किया गया एक अभियान है। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप