कोलकाता, राज्य ब्यूरो। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों ने बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले में भारत- बांग्लादेश सीमा के पास तस्करी के प्रयासों को नाकाम करते हुए 448 बोतल प्रतिबंधित फेंसिडिल कफ सिरप के साथ एक बांग्लादेशी तस्कर को रविवार को गिरफ्तार किया। फेंसिडिल बोतलों की सीमा चौकी पिपली इलाके से भारत से बांग्लादेश में तस्करी की जा रही थी।बीएसएफ के दक्षिण बंगाल फ्रंटियर की ओर से जारी एक बयान में बताया गया कि जब्त फेंसिडिल का मूल्य करीब 76,421 रुपये है। 

 बयान के मुताबिक, 4 अप्रैल को प्राप्त खुफिया सूचना पर कार्य करते हुये सीमा चौकी पिपली, 158वीं वाहिनी, सेक्टर कोलकाता के जवानों ने अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास एक स्पेशल ऐम्बुश लगाया। इस दौरान सुबह लगभग तीन बजे जवानों ने एक संदिग्ध व्यक्ति को बैग (पोटला) के साथ अंतरराष्ट्रीय सीमा की तरफ बढ़ते हुए देखा जो तस्करी के उद्देश्य से भारत से बांग्लादेश की तरफ जाने की कोशिश कर रहा था। पहले से ही घात लगाकर बैठे पार्टी ने जब उसे चुनौती दी तो तस्कर घबरा गया तथा बैग को फेंक कर भागने की कोशिश करने लगा। जवानों ने शीघ्र ही उसका पीछा कर उसे पकड़ लिया। जब ऐम्बुश पार्टी ने इलाके की सघन तलाशी ली तो वंहा से एक बैग (पोटला) बरामद हुआ जिसके अंदर 448 बोतल फेंसिडिल भरा हुआ था, जिसका बाज़ार मूल्य 76,421 रुपये है।

 पकड़े गए तस्कर की पहचान गुलाम हुसैन (35), गांव- हरीशचंद्रपुर, पोस्ट- गोगा, थाना- सरसा, जिला- यशोर (बांग्लादेश) के रूप में हुई है। पूछताछ के दौरान पकड़े गए तस्कर गुलाम हुसैन ने बताया कि वह बांग्लादेशी नागरिक है और वह पिछले तीन वर्षों से फेंसिडिल और मवेशियों की तस्करी में शामिल है। उसने यह भी बताया कि सुबह उसे ये फेंसिडिल सुखदेव हलदार, गांव- शाशाडंगा, थाना- गाईघटा, जिला- उत्तर 24 परगना, बंगाल तथा बरुन सरकार, झाउडांगा, थाना- गायघटा, जिला- उत्तर 24 परगना से मिला था तथा उसे इस फेंसिडिल को अयूब हुसैन, हरीशचंद्रपुर, थाना- सरसा, जिला- यशोर (बांग्लादेश) को देना था। जिसके लिए उसे 4000 रुपये मिलते। लेकिन अंतरराष्ट्रीय सीमा के नजदीक सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने उसे पकड़ लिया। बीएसएफ ने तस्कर को जब्त फेंसिडिल के साथ थाना- स्वरूपनगर के हवाले कर दिया है। 

 बीएसएफ अधिकारी ने जवानों की प्रशंसा की

 वहीं, कमांडिंग ऑफिसर सुरेंद्र सिंह, 158 वाहिनी, सीमा सुरक्षा बल ने अपने जवानों की उपलब्धियों पर खुशी व्यक्त की है, जिसके परिणामस्वरूप फेंसिडिल के साथ एक तस्कर को हिरासत में लिया तथा तस्करी को नाकाम किया गया। उन्होंने कहा कि यह केवल ड्यूटी पर मौजूद उनके जवानों द्वारा प्रदर्शित सतर्कता के कारण ही संभव हो सका है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021