कोलकाता, जेएनएन। बंगाल में बीरभूम जिले के पारुई में शनिवार रात भर दो राजनीतिक दलों के गुटों में बमबाजी व फायरिंग हुई। इस घटना में कई लोग जख्मी हो गए। इनमें से कई की हालत नाजुक है। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने इस मामले में सात लोगों को गिरफ्तार किया है।

तीन जगहों पर भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमला, 12 जख्मी

पिछले 24 घंटे में राज्य में तीन जगहों पर भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमला हुआ, जिसमें 12 लोग जख्मी हो गए हैं। यह घटनाएं मुर्शिदाबाद, हुगली तथा उत्तर 24 परगना में घटी है। हमले का आरोप पर तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर लगा है। तीनों ही घटनाओं में थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। पुलिस घटना की जांच पड़ताल कर रही है।

बीरभूम जिले के खयरासोल में मकान में रखे देशी बमों में विस्फोट से इलाका दहल उठा। धमाका इतना तीव्र था कि मकान में पड़ी टीन की छत उड़ गई और दीवारें चटक गई। घटना के वक्त घर में किसी के नहीं होने से जान का कोई नुकसान नहीं हुआ। पुलिस और बम स्क्वायड ने घटना की जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने इस मामले में मकान मालिक के तीन बेटों को गिरफ्तार किया है। विस्फोट की घटना के बाद तृणमूल और भाजपा में आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है।

उधर, घटना को लेकर एक बार फिर जिला तृणमूल अध्यक्ष अनुब्रत मंडल ने विवादित बयान दे दिया। उन्होंने मीडिया पर ही धमाका करवाने का आरोप लगाया है। सूत्रों के अनुसार, खयरासोल के लोकपुर थानांतर्गत गंगपुर गांव में शुक्रवार शाम बबलू मंडल नामक व्यक्ति के घर अचानक तेज धमाका होने से आसपास के लोग सहम उठे। विस्फोट की तीव्रता इतनी थी कि मकान की टीन की छत उड़ गई और दीवारों में दरार आ गई। घटना के वक्त घर में किसी के मौजूद नहीं होने से जान का नुकसान नहीं हुआ। सूचना पर पहुंची पुलिस ने इलाके की घेराबंदी दी। पुलिस के अनुसार घर में रखे देशी बमों में धमाका होने से घटना हुई है। घटना के बाद फरार बबलू तृणमूल कार्यकर्ता बताया गया है। शनिवार सुबह मौके पर पहुंची बम स्क्वायड ने मकान के अंदर से नमूने एकत्र कर जांच शुरू कर दी है।

पुलिस अधीक्षक श्याम सिंह के अनुसार, इस मामले में बबलू के तीन बेटों को गिरफ्तार किया गया है। मकान के अंदर भारी तादाद में देशी बमों को किसलिए एकत्र किया गया था, इसकी जांच शुरू कर दी गई है। उधर, जिला तृणमूल अध्यक्ष अनुब्रत मंडल ने कहा कि बबलू पार्टी का कार्यकर्ता नहीं है। उन्होंने कहा कि मीडिया के पास कोई खबर नहीं है, इसलिए उसने ही बम धमाका कराकर खबर बना दिया है। अनुब्रत के इस विवादित बयान से एक बार फिर सियासी माहौल गर्म हो गया है। दूसरी तरफ, भाजपा ने आरोपित बबलू को तृणमूल कांग्रेस का कार्यकर्ता बताया है।

बंगाल की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप