कोलकाता जेएनएन। पश्चिम बंगाल में भाजपा ने बुधवार को 12 घंटे के बंद का आह्वान किया है। पार्टी ने इस्‍लामपुर घटना को लेकर बंद बुलाया है, जहां पुलिस के साथ झड़प में बीते सप्‍ताह 2 छात्रों की मौत हो गई। राज्‍य के उत्‍तरी दिनाजपुर जिले में हुई इस घटना के विरोध में भाजपा ने बुधवार को पश्चिम बंगाल में 12 घंटे के बंद का आह्वान किया है। इस बीच, कई जगह प्रदर्शनकारियों ने तोड़फोड़ मचाई। हिंसक घटनाओं से बचाव के मद्देनजर पश्चिम बंगाल में सरकारी बसों के ड्राइवर हेलमेट पहनकर बस चला रहे हैं।

इस बीच, राज्‍य में तृणमूल कांग्रेस की अगुवाई वाली सरकार ने चेताया है कि इस दौरान किसी तरह से कानून का उल्‍लंघन हुआ तो ऐसा करने वालों से सख्‍ती से निपटा जाएगा। सरकार ने भाजपा की ओर से बुलाए गए बंद को तवज्‍जो न देते हुए बुधवार को सभी सरकारी कार्यालय, स्‍कूल और कॉलेज खुले रखे हैं। बंद के मद्देनजर अतिरिक्‍त सुरक्षा बलों की भी तैनाती की गई है। 

उत्तर दिनाजपुर के इस्लामपुर में गोली लगने से हुईं दो छात्रों की मौत के प्रतिवाद में भाजपा द्वारा आहूत बंगाल बंद का मिश्रित असर पूर्व व पश्चिम मेदिनीपुर जिले में देखा जा रहा है। पश्चिम मेदिनीपुर जिले के खड़गपुर में बंद को सफल बनाने के लिये भाजपा कार्यकर्ता सुबह 6 बजे से ही रोड पर उतर आयें हैं। भाजपा कार्यकर्ताओ ने शहर के मलंचा रोड पर दो स्थानों पर पथ अवरोध किया। बिस्कुट कारखाना, पेट्रोल पम्प, स्कूल आदि को भी घूम-घूम कर बंद करवा रहे हैं। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने पथ अवरोध समाप्त कराया।

दूसरी ओर मेदिनीपुर शहर में दो सरकारी बसों पर तोड़फोड़ की सूचना भी है। निजी वाहन भी नहीं चल रहे हैं। कूचबिहार में बंद समर्थकों ने सरकारी बसों को तोड़ दिया। कई जगह ट्रेनें रोक दी गई हैं, साथ ही सरकारी बसों में आग लगा दी गई। मिदनापुर में सरकारी बस को आग के हवाले कर दिया है। भारतीय जनता पार्टी नेता राहुल सिन्हा के अनुसार, राज्य सरकार ने लोकतंत्र को नुकसान पहुंचाया है। इसी के खिलाफ हमने बंद बुलाया है, हमें लोगों को समर्थन मिल रहा है। 

पश्चिम बंगाल में पिछले काफी समय से भारतीय जनता पार्टी और तृणमूल कांग्रेस में संग्राम जारी है। पिछले हफ्ते हुई पुलिस फायरिंग के दौरान कुछ छात्रों की मौत के विरोध में आज भारतीय जनता पार्टी ने बंगाल बंद बुलाया है। बीजेपी ने आज 12 घंटे का बंद बुलाया है। बुधवार सुबह ही पश्चिम बंगाल के पूर्व बर्दवान जिले के नादनघाट क्षेत्र में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने रेल रोक दी। इस दौरान कई गाड़ियों को रोक दिया गया। बीजेपी के बंद को देखते हुए राज्य सरकार ने सुरक्षा के बंदोबस्त पुख्ता कर दिए हैं।  

उधर, हावड़ा-बर्धमान मेन लाइन पर प्रदर्शनकारियों ने ट्रेन का परिचालन भी रोक दिया। यहां बड़ी संख्‍या में सुरक्षा बलों की भी तैनाती की गई है। पश्चिम बंगाल में विपक्षी पार्टियों कांग्रेस और सीपीएम ने भी इस्लामपुर घटना पर नाराजगी जाहिर की है, पर उन्होंने बीजेपी के बंद का समर्थन नहीं किया। दोनों पार्टियां बीजेपी और तृणमूल पर घटना को लेकर राज्य में सांप्रदायिक ध्रुवीकरण का आरोप लगा रही हैं।

आपको बता दें कि उत्तरी दिनाजपुर जिले के इस्लामपुर के दारीभीत गांव में ITI के छात्र राजेश सरकार और तृतीय वर्ष के कॉलेज छात्र तपस बर्मन की मौत के विरोध में भारतीय जनता पार्टी ने बुधवार को 12-घंटे का बंगाल बंद का आह्वान किया है।

Posted By: Preeti jha