कोलकाता, ऑनलाइन डेस्‍क। Mahua Moitra's 'Kaali' Remarks: तृणमूल कांग्रेस (TMC) की सांसद महुआ मोइत्रा (TMC MP Mahua Moitra) का मां काली के विवादास्‍पद पोस्‍टर (Controversial poster of Kali) पर टिप्‍पणी कर फंस  गई है। अब यह विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। उन्‍होंने  ट्वीट किया था कि मेरे लिए मां काली मीट खानेवाली और शराब स्‍वीकार करनेवाली देवी हैं। यह भी कहा है कि 'सारे संघी- आप झूठ बोलकर बेहतर हिंदू नहीं बन सकते। यहां तारापीठ आकर देखें कि क्‍या भाेग चढ़ता है।' इसके तुरंत बादी उनकी पार्टी ने उनके इस बयान से किनारा कर लिया है। वहीं बंगाल विधान सभा में नेता प्रतिपक्ष सुवेंदु अधिकारी ने महुआ मोइत्रा की टिप्‍पणी की जमकर आलोचना की है। कहा है कि टीएमसी हमेशा हिंदू देवी-देवताओं का अपमान करती है। उन्‍होंने सीएम ममता बनर्जी से सांसद महुआ मोइत्रा पर कार्रवाई की मांग की है। उन्‍होंने सांसद महुआ की गिरफ्तारी की भी मांग की है। भाजपा के उपाध्यक्ष रथींद्र बोस ने भी महुआ के बयान को लेकर सीएम ममता बनर्जी से सीधा सवाल किया है।

महुआ ने टीएमसी को किया अनफॉलो

दूसरी ओर आल इंडिया तृणमूल कांग्रेस ने ट्वीटर पर सांसद महुआ मोइत्रा के बयान की कड़ी निंदा की है। कहा है कि यह उनका व्‍यक्तिगत विचार हो सकता है। टीएमसी इसका किसी भी रुप में किसी भी तरह से समर्थन नहीं करती। इसके बाद महुआ ने ट्वीटर पर टीएमसी को अनफॉलो कर दिया है। हालांकि महुआ ने ट्वीट में यह कहा है कि 'मैंने कभी भी किसी फिल्‍म या पोस्‍टर का नाम नहीं लिया है। ना ही स्‍मोकिंग शब्‍द का इस्‍तेमाल किया है।

बता दें कि पूरे देश में एक डॉक्‍यूमेंट्री फिल्‍म काली के पोस्‍टर को लेकर विवाद छिड़ गया है। पोस्‍टर में मां काली को सिगरेट पीते हुए दिखाया गया है। इसपर एक समुदाय का कहना है कि यह करोड़ों लोगों की धार्मिक भावना को आहत करनेवाला पोस्‍टर है। फिल्‍म के निर्माता लीना मणिमेकलई सहित अन्‍य पर देश के कई राज्‍यों में एफआइआर दर्ज कराई गई है।

सांसद महुआ ने कहा कि लोग अपने देवी-देवता को किस रूप में देखना चाहेंगे, यह उनका व्यक्तिगत विषय है। महुआ ने आगे कहा-'भारत में ऐसी जगह भी है, जहां देवी-देवताओं को प्रसाद के रूप में शराब चढ़ाई जाती है और ऐसी जगह भी है, जहां ऐसा करना धार्मिक भावनाओं के खिलाफ है। आप अगर भूटान अथवा सिक्किम जाएंगे तो वहां सुबह पूजा के समय देवी-देवताओं को मदिरा चढ़ाई जाती है और अगर उत्तर प्रदेश जाएंगे तो ऐसा करना धार्मिक भावनाओं के खिलाफ होगा। मां काली मेरे लिए मांस व मदिरा ग्रहण करने वाली देवी हैं।'  तृणमूल कांग्रेस ने महुआ के बयान से किनारा करते हुए इसे उनका व्यक्तिगत विचार करार दिया।

भाजपा नेता ने सीएम ममता से किया सीधा सवाल

वहीं बंगाल भाजपा के उपाध्यक्ष रथींद्र बोस ने महुआ के बयान को लेकर सीधे मुख्यमंत्री व तृणमूल सुप्रीमो ममता बनर्जी से सीधा सवाल किया। उन्होंने कहा-'आप अपने घर में मां काली की पूजा करती हैं। क्या आप महुआ मैत्र के बयान का समर्थन करेंगी? इससे पहले सांसद महुआ ने शिवलिंग का अपमान किया था। सायोनी घोष महादेव का अपमान कर चुके हैं। विधायक निर्मल माजी मां शारदा और रामकृष्ण परमहंस का अपमान कर चुके हैं। एक और विधायक विश्वजीत दास ने रानी रासमणि का अपमान किया है। आपकी पार्टी के सांसद कल्याण बनर्जी भगवान राम और मां सीता का अपमान कर चुके हैं। आपकी पार्टी के रत्न मदन मित्रा पूजा में कमल फूल के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगाने की बात कर चुके हैं। आपका उद्देश्य क्या हिंदुओं का अपमान करके वोट पाना है?'

Koo App

डॉक्यूमेंट्री फिल्म ’काली’ में काली माता को सिगरेट पीते हुए दिखाना काफी आपत्तिजनक है। इस मामले में FIR करवाने के लिए बोलूंगा और फिल्म मध्यप्रदेश में कैसे प्रतिबधिंत हो इस पर विचार किया जाएगा। अगर तत्काल फिल्म के पोस्टर नहीं हटाए तो आगे कड़ी कानूनी कार्रवाई करेंगे।

View attached media content

- Dr.Narottam Mishra (@drnarottammisra) 5 July 2022

Edited By: Sumita Jaiswal