राज्य ब्यूरो, कोलकाता। West Bengal By Elections 2021: बंगाल विधानसभा में विपक्ष के नेता व नंदीग्राम से भाजपा विधायक सुवेंदु अधिकारी ने चुनाव आयोग से अपील की कि भवानीपुर में जबरन उपचुनाव के लिए करदाताओं के रुपये से अतिरिक्त खर्च करने के कारण चुनाव आयोग तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) से पांच करोड़ रुपये वसूले।

उन्होंने कहा कि इस साल की शुरुआत में हुए विधानसभा चुनाव में भवानीपुर से चुनाव जीतने वाले टीएमसी नेता शोभनदेव चट्टोपाध्याय को इस्तीफा दिलवाकर जबरन भवानीपुर में चुनाव कराया जा रहा है ताकि ममता बनर्जी मुख्यमंत्री बन सकें। सोमवार को चुनाव प्रचार के अंतिम दिन भवानीपुर में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए सुवेंदु अधिकारी ने कहा कि भवानीपुर में उपचुनाव कराने पर तीन करोड़ रुपये खर्च हुए हैं जो करदाताओं के पैसे हैं। उन्होंने कहा कि यह पैसे तृणमूल कांग्रेस से वसूले जाने चाहिए और अतिरिक्त दो करोड़ रुपये जुर्माना के तौर पर भी लेने चाहिए।

यानी जबरन उपचुनाव के लिए तृणमूल से आयोग पांच करोड़ रुपये वसूले।भवानीपुर से तृणमूल कांग्रेस की उम्मीदवार और राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर उन्होंने आरोप लगाया कि वह खुद को ‘त्याग की प्रतिमूर्ति’ के तौर पर दर्शाती हैं, लेकिन अपने पहले के अनुभवों से पता है कि वह केवल अपने और अपने भतीजे से मतलब रखती हैं।उन्होंने कहा, ‘ममता बनर्जी अपने लोगों के प्रति भी कोई सहानुभूति नहीं रखती हैं। अगर लोगों को वोट देने मिला तो भवानीपुर के लोग आपको हरायेंगे।’ उन्होंने साथ ही चुनौती देते हुए कहा कि ममता बनर्जी ये साबित कर दिखायें कि नंदीग्राम के चुनाव में धांधली हुई है।

उन्होंने कहा, ‘नंदीग्राम में लोगों के मतदान पर वह अविश्वास जता रही हैं।’ सुवेंदु ने कहा, ‘आपने खुद ही दीदी के बोलो लाया ताकि राज्य के नागरिक सीधे सीएम को विभिन्न मुद्दों पर शिकायत कर सकें। क्या हमारे प्रदेश अध्यक्ष सुकांत मजूमदार और हमारी उम्मीदवार प्रियंका टिबड़ेवाल को आप अपने राज्य का नागरिक नहीं समझतीं ? क्या भाजपा के लिए नियम अलग हैं?’

बता दें कि मार्च-अप्रैल में हुए विधानसभा चुनाव में ममता नंदीग्राम से सुवेंदु अधिकारी से करीबी मुकाबले में चुनाव हार गईं थीं। इसीलिए वह भवानीपुर से उपचुनाव लड़ रही हैं। मुख्यमंत्री बने रहने के लिए ममता के लिए यह चुनाव जीतना जरूरी है। भवानीपुर सीट के लिए 30 सितंबर को चुनाव होने हैं। मतगणना चार अक्टूबर को होगी। 

Edited By: Priti Jha