मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

-सीएम ने किया 9 इंडस्ट्रियल पार्क का उद्घाटन

-साड़ी, आभूषण बड़े पैमाने पर तैयार किए जाने पर दिया बल

-कहा, अब बंगाल में नहीं बुलाया जाता बंद, सुलभ हुई लाइसेंस प्रक्रिया

जागरण संवाददाता, कोलकाता : पश्चिम बंगाल में दो लाख नए रोजगार के अवसर सृजित होगा। रोजगार सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग (एमएसएमई) के लिए स्थापित किए जा रहे 9 इंडस्ट्रियल पार्क (व्यावसायिक उद्यान) के तहत सृजित हो रहे हैं। इसकी घोषणा शुक्रवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने की। राज्य सचिवालय नवान्न के सभागार में एमएसएमई पर आयोजित एक कार्यक्रम में बोलते हुए सुश्री बनर्जी ने कहा कि हावड़ा में 1633 एकड़ जमीन पर 9 नए इंडस्ट्रीयल पार्क स्थापित किया जा रहा है जिनमें से कुछ पार्क बनकर तैयार भी हो चुका है।

मुख्यमंत्री ने इस दिन सभागार से ही उक्त नए इंडस्ट्रीयल पार्क में से कुछ का उद्घाटन जबकि कुछ का शिलान्यास किया। बनकर तैयार इंडस्ट्रीयल पार्क में जेम्स एंड ज्वेलरी पार्क, होजियरी पार्क का नाम शामिल है। यह मल्टी मॉडल व लॉजिस्टिक होंगे।

............

उद्योगपति कर रहे हैं राज्य का रूख

इस मौके पर सुश्री बनर्जी ने कहा कि हम नकारात्मक विषयों की चर्चा करते हैं लेकिन अच्छे कार्यो की प्रशंसा नहीं करते। अच्छे कार्यो की प्रशंसा किए जाने की आवश्यकता है। उन्होंने उद्योगपतियों की ओर इशारा करते हुए कहा कि एक समय जिन्होंने बंगाल से मुंह मोड़ लिया था आज वे वापस आना चाहते हैं, हम भी चाहते हैं राज्य में निवेश आए। लगे हाथ मुख्यमंत्री ने ग्रामीण कुटीर उद्योग को और अधिक बढ़ावा देने पर बल देते हुए कहा कि साड़ी, आभूषण बड़े पैमाने पर तैयार किए जाने की आवश्यकता है क्योंकि राज्य से इनकी देश व विदेशों में भी अधिक मांग है।

....................

ग्रामीण बंगाल की मजबूती पर जोर

ममता ने कहा कि हमें आर्थिक तौर पर और अधिक आगे बढ़ना होगा। ग्रामीण समाज को आगे लाना होगा, उनके लिए नए रोजगार के अवसर पैदा करने होंगे। उन्होंने कहा कि ग्रामीण बंगाल में आमदनी का जरिया बढ़े इसके लिए विशेषज्ञ सेंटर खोले जाने की आवश्यकता है। इसके लिए सीएम ने उद्योग मंत्री अमित मित्रा को विशेष जिम्मेवारी सौंपी है। इतना ही नहीं उद्योग धंधे को लेकर कोई दिक्कत न हो इसके लिए सुलभ लाइसेंस मुहैया कराने हेतु सिंगल विंडो कमेटी गठित की गई है।

...........

कई क्षेत्रों में राज्य अव्वल

पूर्ववर्ती वाममोर्चा की ओर इशारा करते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि अब यहां बंद नहीं बुलाया जाता जिससे कि कामकाजी दिवस की बर्बादी हो। राज्य की प्रशंसा करते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि कई क्षेत्रों में बंगाल दूसरे राज्यों के मुकाबले अग्रणी और नंबर वन है। उन्होंने कहा कि कुछ जगहों पर कारखाने के सामने झंडा लटका कर धरना देना और कारखाना बंद करना ठीक नहीं है क्योंकि इससे मालिक व श्रमिक दोनों पक्ष का नुकसान होता है। उन्होंने कहा कि प्रतिद्वंद्विता हिंसा को लेकर नहीं बल्कि कामकाज को लेकर होनी चाहिए।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप