जागरण संवाददाता, खड़गपुर : दक्षिण-पूर्व रेलवे मजदूर संघ की ओर से रेल कर्मियों की विभिन्न मांगों को लेकर शुक्रवार की शाम को खड़गपुर मंडल में प्रदर्शन किया। प्रदर्शन का आयोजन डीआरएम कार्यालय के समक्ष किया गया था, जिसमें संगठन से जुड़े काफी तादाद में रेल कर्मचारियों ने हिस्सा लिया। वक्ताओं के रूप में डीपीआरएमएस के अध्यक्ष प्रह्लाद ¨सह, कार्यकारी अध्यक्ष दिलीप पाल, सहायक महासचिव राजेश कुमार ¨सह, वर्कशाप शाखा सचिव पीके कुंडू, खड़गपुर मंडल के संगठन सचिव व जोनल कार्यकारिणी कमेटी के सदस्य प्रताप कुमार पात्र ने वक्तव्य दिया। अपने वक्तव्य में प्रह्लाद ¨सह ने आरोप लगाया कि विभिन्न नियम-कानून लादकर रेल प्रशासन की ओर से रेल कर्मचारियों के साथ अन्याय किया जा रहा है। संगठन की ओर से यह बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इसके विरोध में हम लोग जोरदार आंदोलन करते रहेंगे। नई पेंशन स्कीम को वापस लेने, न्यूनतम वेतन 24 हजार रुपये करने, आयकर की सीमा बढ़ाने, प्रमोशन नियमों को सरल बनाने, सभी रिक्त पदों पर कर्मचारियों की भर्ती करने, रेल कालोनी व अस्पतालों की स्थिति में सुधार करने, ड्यूटी के दौरान र¨नग कर्मचारियों को सभी सुविधाएं प्रदान करने आदि मांगें संगठन की ओर से उठाई गई। संगठन की जोनल कार्यकारिणी के सदस्य प्रताप कुमार पात्र ने कहा कि रेलवे में कुछ विरोधी ट्रेड यूनियनें रेल कर्मचारियों के हितों के नाम पर राजनीति करती है, जबकि वास्तविक स्थिति में डीपीआरएमएस की ओर से ही रेल कर्मचारियों की मांगों को लेकर बराबर आंदोलन किया जाता है।

By Jagran