संवाद सूत्र, वीरपाड़ा: सात महीने बीत जाने के बाद भी घर-घर पानी पहुंचाने के लिए पाइप लाइन बिछाने का काम अब तक पूरा नहीं हुआ है। इस कारण वीरपाड़ा सुभाष पल्ली इलाके के ग्राम पंचायत सीमा बरुआ ने विरोध प्रकट किया। मंगलवार को पीएचई कार्यालय में किसी अधिकारी के नहीं होने से काम कब पूरा होगा, इसका कोई जवाब नहीं मिल सका। पाइप लाइन का काम समय पर पूरा नहीं होने से वीरपाड़ा ग्राम पंचायत प्रधान रमेश मंडल, तृणमूल कांग्रेस 1 नंबर अंचल अध्यक्ष अलोक मित्र समेत अन्यों ने भी रोष प्रकट किया।

पंचायत सदस्य सीमा बरुआ ने कहा कि घर-घर पानी पहुंचाने के लक्ष्य से वीरपाड़ा पीएचई की ओर से गत जनवरी महीने में ही टेंडर किया गया था एवं 45 दिनों के भीतर काम पूरा करने की समय सीमा तय की गई थी। लेकिन सात महीने बीत जाने के बावजूद अब तक काम पूरा नहीं हो सका है। फलस्वरूप स्थानीय लोगों को काफी समस्या हो रही है। आज स्थानीय लोगों के साथ पहुंचकर पीएचई कार्यालय में विरोध दर्ज कराया गया। यहां किसी अधिकारी के नहीं होने के कारण उनलोगों को खाली हाथ ही लौटना पड़ा। पीएचई के एक अस्थाई कर्मचारी प्रदीप दास ने कहा कि अधिकारी कब मौजूद रहेंगे, इस बारे में बता दिया जाएगा। गौरतलब है कि वीरपाड़ा समेत आसपास के इलाकों में पानी की काफी समस्या है। मजबूरन लोगों को काफी दूर कई किलोमीटर से पानी लाना पड़ता है। इसे ध्यान में रखकर ही घर-घर पेयजल पहुंचाने का फैसला लिया गया था, लेकिन अब तक काम पूरा नहीं होने से लोगों में नाराजगी है।

Edited By: Jagran