संवाद सूत्र, मालबाजार: वर्तमान समय में डुवार्स के चाय बागानों में तेंदुए का उत्पात लोगों के लिए सबसे बड़ी समस्या बनी हुई है। अधिकांश चाय बागानों में ही तेंदुए का दहशत देखा जा रहा है। फलस्वरूप चाय पत्ती तोड़ने के दौरान कभी श्रमिक तो कभी उनके बच्चों को हमले का शिकार होना पड़ रहा है। इस कारण परिवेश प्रेमी संगठनों ने चाय बागान इलाकों में तेंदुए की गणना कराने की मांग की है। इधर, सोमवार को मालबाजार पहुंचे वनमंत्री राजीव बनर्जी ने परिवेश प्रेमियों की मांग पर चर्चा करने का आश्वासन दिया है। इस दिन दोपहर को बक्शा जंगल में जाने के दौरान मंत्री कुछ देर के लिए माल उद्यान में रुके थे। तभी उन्होंनें तेंदुए की गणना संबंधित महत्वपूर्ण विषय पर चर्चा करने की बात कही। वन व वन्य प्राणियों की रक्षा के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। लोगों के साथ संघर्ष न बढ़े, इसके लिए काम किया जा रहा है। इसके अलावा नेवड़ावैली में बाघ की मौजूदगी को लेकर भी वन विभाग खुश हैं। जंगल में बाघ की खोज के लिए और कैमरे लगाए जाएंगे। मंत्री के आश्वासन के बाद परिवेश प्रेमी संगठन के सदस्य काफी खुश नजर आएं। परिवेश प्रेमी व समाजसेवी अनिमेष बसू ने कहा कि चाय बागानों में तेंदुए का उत्पात बढ़ रहा है। अगर तेंदुए की गणना पर मंत्री विचार कर रहे हैं तो ये खुशी की बात है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस