- दो दिवसीय वनबाधवन उत्सव शुरू, संयुक्त वन संचालित समिति को पांच करोड़ का चेक

संवाद सूत्र, मालबाजार: देशभर में जहां जंगल लगातार संकुचित होते जा रही है, उसमें पश्चिम बंगाल ही एकमात्र राज्य है, जहां गत दस वर्षो में 55 वर्ग किलोमीटर जंगल वृद्धि हुई है। दार्जिलिंग व कालिम्पोंग जिले के वनकर्मियों को लेकर वनबाधव उत्सव मंच पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान वनमंत्री राजीव बनर्जी ने उक्त बातें कही। मंगलवार दोपहर को कालिम्पोंग वन उन्नयन निगम डिवीजन के अंतर्गत मंगपंग वन बस्ती मैदान में दो दिवसीय वनबाधव उत्सव शुरू हुआ। कार्यक्रम के दौरान वनमंत्री राजीव बनर्जी ने कहा कि गत दस वर्षो में जंगल बढ़ने के पीछे संयुक्त वन संचालक समितियों का अहम योगदान है। इस उत्सव का मुख्य लक्ष्य वन संचालक सुरक्षा कर्मचारियारें और संयुक्त वन संचालक समिति के सदस्यों की भूमिका को स्वीकृति देना। राज्य की मुख्यमंत्री वनकर्मियों को उत्साहित करने के लिए ही वनबाधव उत्सव का आयोजन करा रही है। साथ ही जब्त होने वाली लकड़ी समेत अन्य सामाग्री के लाभ का 40 प्रतिशत वन संचालन समिति के सदस्यों के बीच बांटने का निर्णय लिया गया है। इसके अलावा वन बस्ती के लोगों के लिए सिंचाई, पेयजल, सड़क, कम्युनिटी हॉल, कृषि कार्य के लिए उपकरण बांटा गया है। इस दिन कार्यक्रम मंच से ही दार्जिलिंग, कर्सियांग व कालिम्पोंग जिले के संयुक्त वन संचालन समिति सदस्यों को पांच करोड़ रुपये का चेक दिया गया। इस माकै पर कर्सियांग के विधायक रोहित शर्मा, कालिम्पोंग की विधायक सरिता सराई समेत अन्य वनअधिकारी मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस