जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी। सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) 41वीं बटालियन की टीम ने दो बांग्लादेशी घुसपैठिये को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपियों में से एक पड़ोसी देश नेपाल से भारत, और दूसरा बांग्लादेश से भारत के रास्ते नेपाल घुसने की ताक में था। आरोपियों से पूछताछ के बाद एसएसबी ने दोनों को दार्जिलिंग जिला पुलिस के हवाले किया है। अदालत ने आरोपियों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

गिरफ्तार आरोपियों के नाम मुहम्मद हसन (42) और मुहम्मद शोफिकुल (29) बताया गया है। एसएसबी सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक आरोपी मुहम्मद हसन बांग्लादेश के नरिंगड़ी जिले के पोलाश थाना अंतर्गत बड़बोराबो इलाके का निवासी है।

वहीं दूसरा आरोपी मुहम्मद शोफिकुल पबना जिले के उल्लपाड़ा थाना अंतर्गत सिरांझगंज इलाके का निवासी है। दोनों को भारत-नेपाल सीमांत पानीटंकी से गिरफ्तार किया। मुहम्मद हसन नेपाल से भारत और शोफिकुल बांग्लादेश से सिलीगुड़ी होकर नेपाल प्रवेश करने के फिराक में था। एसएसबी के साथ अन्य खुफिया एजेंसियों ने भी आरोपियों से पूछताछ किया है। 

बीएसएफ के साउथ बंगाल फ्रंटियर के जवानों ने गत गुरुवार मध्यरात्रि में विशेष अभियान चलाकर बांग्लादेश सीमा से सटे विभिन्न स्थानों से फिर 23 अवैध घुसपैठिए को गिरफ्तार किया है। इसके अलावा 65 मवेशियों को भी जब्त किया है, जिसे बांग्लादेश में तस्करी का प्रयास किया जा रहा था। बीएसएफ की ओर से बताया गया कि उत्तर 24 परगना जिले के बशीरहाट थाना अंतर्गत बीओपी घोझाडांगा इलाके से बीएसएफ जवानों ने छह बांग्लादेशी और एक भारतीय मूल के नागरिकों को पकड़ा, जब वे अवैध रूप से अंतरराष्ट्रीय सीमा पार कर भारतीय क्षेत्र में प्रवेश कर गए थे।

वहीं, स्वरूपनगर थाना अंतर्गत बीओपी डोबिला व बीओपी तराली क्षेत्र से चार-चार बांग्लादेशी नागरिकों को गिरफ्तार किया गया। इसके अलावा छपरा थाना अंतर्गत बीओपी महाखोला इलाके से भारतीय मूल के दो नागरिकों को पकड़ा गया। इनके अलावा बीओपी हकीमपुर क्षेत्र से चार बांग्लादेशी और एक भारतीय मूल के नागरिक को गिरफ्तार किया गया। वहीं, एक बांग्लादेशी को सुती थाना अंतर्गत बीओपी चांदनी चौक क्षेत्र से पकड़ा गया। बीएसएफ ने गिरफ्तार सभी घसुपैठिए को आगे की कानूनी कार्रवाई के लिए संबंधित थाने के हवाले कर दिया है। साउथ बंगाल फ्रंटियर के जवानों द्वारा इस साल 1183 बांग्लादेशी घुसपैठिए को गिरफ्तार किया जा चुका है, जब वे सीमा पार करने की कोशिश कर रहे थे।

बंगाल की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप