-अभी हमारा ध्यान दिल्ली में होने वाली वार्ता पर केंद्रित

-लोगों से किया आह्वान किसी तरह की अफवाह व लोभ, लालच में न पड़ें

------------

संवाद सूत्र,दार्जिलिंग: अभी जाति और माटी का उद्धार मुख्य लक्ष्य है। यह कहना है गोरखा राष्ट्रीय मुक्ति मोर्चा के अध्यक्ष मन घीसिंग का। उन्होंने उक्त मंतव्य शनिवार को गोरामुमो के केन्द्रीय कार्यालय में मुलाकात करने आए कर्सियांग ब्राच कमेटी के अंबोटे चाय बागान के पारस गुरुंग के नेतृत्व में आए प्रतिनिधियों से कही। अध्यक्ष मन घीसिंग ने संगठन में तीव्रता लाने की बात कही और उन्होंने कहा कि हम अभी केवल अपने मुद्दे के प्रति गंभीर है जिस पर दिल्ली में वार्ता होने वाली है। उन्होंने कहा कि हमें अफवाह और लोभ लालच में नहीं पड़ना है क्यों कि अभी हमने अपने मुद्दे पर विजय नहीं हासिल की है। जब मुद्दा फतह होगा तब हम राजनीति करेंगे। उन्होंने कहा कि गोरामुमो का उद्देश्य अपने मुख्य मुद्दे का निराकरण कराना है। इसी के लिए हम प्रयासरत हैं। वहीं कर्सियांग से आए प्रतिनिधियों ने दिल्ली में होने वाले वार्ता के लिए मन घीसिंग को अग्रिम शुभकामना दी। भेट घाट के क्रम में धोतरिया से आए प्रतिनिधियों ने भी मन घीसिंग से भेंट की। इस अवसर पर उपाध्यक्ष किशोर गुरुंग भी उपस्थित थे।

-----------

चित्र परिचय:

कर्सियांग से आए प्रतिनिधियों के साथ गोरामुमो के केंद्रीय कार्यालय में बातचीत करते अध्यक्ष मन घीसिंग।

--------------

-------------

----------------

----------------

------------------

संवाद सूत्र,दार्जिलिंग: अभी जाति और माटी का उद्धार मुख्य लक्ष्य है। यह कहना है गोरखा राष्ट्रीय मुक्ति मोर्चा के अध्यक्ष मन घीसिंग का। उन्होंने उक्त मंतव्य शनिवार को गोरामुमो के केन्द्रीय कार्यालय में मुलाकात करने आए कर्सियांग ब्राच कमेटी के अंबोटे चाय बागान के पारस गुरुंग के नेतृत्व में आए प्रतिनिधियों से कही। अध्यक्ष मन घीसिंग ने संगठन में तीव्रता लाने की बात कही और उन्होंने कहा कि हम अभी केवल अपने मुद्दे के प्रति गंभीर है जिस पर दिल्ली में वार्ता होने वाली है। उन्होंने कहा कि हमें अफवाह और लोभ लालच में नहीं पड़ना है क्यों कि अभी हमने अपने मुद्दे पर विजय नहीं हासिल की है। जब मुद्दा फतह होगा तब हम राजनीति करेंगे। उन्होंने कहा कि गोरामुमो का उद्देश्य अपने मुख्य मुद्दे का निराकरण कराना है। इसी के लिए हम प्रयासरत हैं। वहीं कर्सियांग से आए प्रतिनिधियों ने दिल्ली में होने वाले वार्ता के लिए मन घीसिंग को अग्रिम शुभकामना दी। भेट घाट के क्रम में धोतरिया से आए प्रतिनिधियों ने भी मन घीसिंग से भेंट की। इस अवसर पर उपाध्यक्ष किशोर गुरुंग भी उपस्थित थे।

Edited By: Jagran