-काफी मात्रा में प्रतिबंधित प्लास्टिक कैरीबैग जब्त

-कई दुकानदारों पर लगा जुर्माना,कड़ी कार्रवाई की चेतावनी

जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : प्रतिबंध लागू होते ही सिंगल यूज प्लास्टिक के खिलाफ बड़े पैमाने पर अभियान शुरू हो गया है। पूरे देश के साथ ही सिलीगुड़ी नगर निगम क्षेत्र में भी प्लास्टिक कैरीबैग पर शुक्रवार से प्रतिबंध लगा दिया गया है। यह प्रतिबंध प्रभावी हो सके इसको लेकर शुक्रवार को सिलीगुड़ी नगर निगम के डिप्टी मेयर रंजन सरकार के नेतृत्व में जोरदार अभियान चलाया गया। विभिन्न बाजारों में छापेमारी की गई।

सिलीगुड़ी के डिप्टी मेयर रंजन सरकार के नेतृत्व में शुक्रवार की सुबह सबसे पहले वार्ड नंबर के गुरुंग बस्ती बाजार में प्लास्टिक कैरी बैग का उपयोग बंद करने को लेकर अभियान चलाया गया। इस दौरान सिलीगुड़ी नगर निगम के एमआइसी व वार्ड नंबर तीन के पार्षद राम भजन महतो, सिलीगुड़ी नगर निगम के कमिश्नर सोनम वांग्दी भूटिया समेत अन्य लोग मौजूद थे। चलाए गए अभियान के तहत जहां दुकानदारों से प्लास्टिक में सामान नहीं देने की अपील की गई वहीं उन्हें कागज की थैली दी गई। इसके अलावा काफी मात्रा में सिंगल यूज प्लास्टिक को जब्त भी किया गया। प्लास्टिक कैरीबैग के उपयोग करते पाए गए कई दुकानदारों पर जुर्माना भी लगाया गया। आगे पकड़े जाने पर और भी कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी गई है। इस मौके पर डिप्टी मेयर रंजन सरकार ने कहा कि राज्य में एक जुलाई से प्लास्टिक कैरीबैग व थर्मोकोल के प्रचलन को रोकने के लिए राज्य सरकार द्वारा कानून पारित किया गया है। इस कानून पर अमल सिलीगुड़ी नगर निगम क्षेत्र में हर हाल में किया जाना है। निगम क्षेत्र में प्लास्टिक कैरीबैग का प्रचलन बंद करना है। उन्होंने कहा कि इसको लेकर मंगलवार को हुई बैठक में व्यवसायी समितियों के लोगों से सहयोग करने की अपील की गई है। सरकार ने कहा कि व्यवसायी समिति के सदस्यों ने भी प्लास्टिक कैरीबैग व थर्मोकोल के प्रचलन को रोकने के प्रति प्रतिबद्धता व्यक्त की है। पहले ही इसको रोकने को लेकर व्यापक स्तर पर जागरूकता अभियान चलाया गया था। अब हर बाजार में लगातार अभियान चलाने का निर्णय लिया गया है। प्लास्टिक का उपयोग करने वाले से 50 रुपये तथा प्लास्टिक में सामान बेचने वाले से 500 रुपये जुर्माना लेने का प्रावधान है। शुक्रवार को नगर निगम के अधीन विभिन्न वाडा्र्रे में और भी कई स्थानों पर अभियान चलाने की खबर है।

Edited By: Jagran