गंगटोक, संवाद सूत्र। सिक्किम की मुख्‍य विपक्षी राजनीति पार्टी फिलहाल सत्ता को घेरने की फिराक में दिख रहे है। इसी क्रम में आगामी 28 नवंबर से पूर्व मुख्यमंत्री पवन चामलिंग के नेतृत्वाधिन सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट (एसडीएफ) ‘सिक्किम बचाओ’ अभियान लेकर गांव में जाने की तैयारी कर रहा है। यह यात्रा पूर्वी सिक्किम के पाक्योंग जिला अंतर्गत छुजाचेन विधानसभा समष्टी से आरंभ किया जा रहा है। एसडीएफ पार्टी 25 साल सिक्किम की सत्ता में रहने के बाद साल 2019 के आम चुनाव में सत्ताच्यूत हुआ था। करीब चार साल के बाद एसडीएफ अध्यक्ष अब अपने समर्थकों के साथ सिक्किम की यात्रा पर निकल रहे हैं। एसडीएफ पार्टी से मिली जानकारी के मुताबिक सिक्किम बचाओ यात्रा आगामी 28 नवंबर को छुजाचेन के रंगेली बाजार से आरंभ किया जाएगा।

जनता की शिकायत पर सुनवाई भी

एसडीएफ पार्टी के प्रचार-प्रसार उपाध्यक्ष कृष्ण खरेल ने बताया है कि छुजाचेन विधानसभा समष्टि के रंगेली बाजार में क्षेत्र स्तरीय पार्टी कार्यालय भी उद्घाटन किया जाएगा। अभियान का नेतृत्व एसडीएफ अध्यक्ष पवन चामलिंग खुद करेंगे। इस अवसर पर एसडीएफ अध्यक्ष पवन चामलिंग छुजाचेन की भ्रमण करते हुए जनता की शिकायत पर सुनवाई करेंगे। इसके साथ ही जनता को पार्टी की भावी योजना विषय में जानकारी देंगे।

जनता से सीधा संवाद को यह अभियान 

सिक्किम बचाओ अभियान की औचित्य पर बोलते हुए उपाध्यक्ष कृष्ण खरेल ने कहा कि सत्तासीन सरकार राज्य में परिवर्तन और जनता को अनेक वचन देकर सत्ता में आया है। करीब चार साल के कार्यकाल में एसकेएम सरकार जनता को दिए गए वचन पूरा करने में असमर्थ रहा। वर्तमान सरकार ने तीन साल छह महीने के कार्यकाल में करीब 52 हजार करोड़ रुपये से अधिक बजट खर्च किया फिर भी सिक्किम और सिक्किमी जनता के पक्ष में कोई उपलब्धि मूलक कार्य नहीं हुआ। उन्होंने आरोप लगाया वर्तमान सरकार ने प्रजातंत्र को संस्थागत रूप में घात पहुंचाने का काम किया है। उक्त सभी समस्याओं पर जनता से संवाद करने के लिए यह अभियान आरंभ किया जा रहा है।

रिफर्म कल का हफ्ते पहले से चल रहा सुधार संकल्‍प यात्रा 

राजनीतिक संस्‍था 'रिफर्म कल' के सुधार संकल्‍प यात्रा से संबंधित एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि एसडीएफ के पास अपनी स्थापित राजनीति पार्टी, संस्था, कार्यकर्ता और अनुभव है, इसी कारण हमें किसी को फॉलो व उनकी कॉपी करने की जरूरत नहीं। एसडीएफ को महसूस हुआ की अब सिक्किम को बचाना आवश्यक है। इसी कारण अभियान का आरंभ किया गया। उन्होंने जानकारी दी है कि अभियान के तहत प्रत्येक निर्वाचन क्षेत्र के गांव में जाकर आम नागरिकों से संवाद किया जाएगा। आप को बता दें कि विगत एक हफ्ता पहले दक्षिण सिक्किम के नामची जिला अंतर्गत मल्ली से राजनीतिक संस्था ‘रिफर्म कल’ ने सिक्किम सुधार संकल्प यात्रा आरंभ किया है, जो राज्यव्यापी रूप में चल रहा है।

Edited By: Sumita Jaiswal

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट