- बीडीयू के प्रयासों से लोडिंग में उछाल,मक्के के परिवहन में डबल बढ़ोत्तरी की उम्मीद जागरण संवाददाता,सिलीगुड़ी: पूर्वोत्तर सीमा रेल के विभाजित राजस्व का लक्ष्य चालू वित्त वर्ष 2021-22 में 6,660.59 (करोड़) रुपये है। जून 2021 तक समानुपातिक लक्ष्य 1029.30 (करोड़) रुपये की तुलना में इस अवधि के दौरान वास्तविक राजस्व उपार्जन 1,296.96 (करोड़) रुपये है। जो लगभग 25 प्रतिशत अधिक है। इसका मतलब है पूसी रेलवे की कमाई बढ़ गई है। जबकि वित्त वर्ष 2020-21 में अंतर्गामी माल यातायात वित्त वर्ष 2019-20 की तुलना में 23 प्रतिशत अधिक था।

पूसी रेलवे के सीपीआरओ शुभानन चंदा ने बताया है कि विभिन्न मंडलों की बीयूडी इकाइयों द्वारा किए जा रहे उपायों के कारण सड़क सेक्टर से रेलवे की ओर सामग्रियों की नई धाराओं को आकíषत करने में सफलता मिली है। अब तक विभिन्न संभावित परिवहनकर्ताओं के साथ कई बार बीडीयू की परिचर्चा हुई है। इसके परिणामस्वरूप रेल द्वारा मक्के के परिवहन में 100 प्रतिशत वृद्धि होने की उम्मीद है। रेल परिवहन के उपयोग के लिए चाय उद्योग के साथ भी परिचर्चा भी की गई है। बीडीयू के कठोर परिश्रम के फलस्वरूप बाग्लादेश से खाद्य तेल की लोडिंग शुरू हुई है और भूटान से लिक्विड नाइट्रोजन की लोडिंग की भी उम्मीद है। त्रिपुरा से रबड़ एवं रबड़ आधारित उत्पादों का देश के विभिन्न हिस्सों तक रेलवे द्वारा लोडिंग की भी संभावना है। उन्होंने बताया कि गुवाहाटी तथा जोगीघोपा में सामानों के इंटरमोडल परिवहन हेतु आईडब्ल्यूएआई (भारतीय अन्तर्देशीय जलमार्ग प्राधिकरण) के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया गया है। इससे पूर्वोत्तर क्षेत्र में मालों के परिवहन की लागत में कमी आएगी। वर्ष 2020-21 के दौरान अतिरिक्त माल यातायात की हैंडलिंग के लिए 18 नए स्टेशन तथा वर्ष 2021-22 के दौरान और 10 स्टेशन खोले गए हैं।

आरचीपथार में एक नई एफसीआई साइडिंग की शुरुआत की गई है, यह असम तथा अरुणाचल प्रदेश के कई हिस्सों की आवश्यकताएं पूरी करेगा। मोहितनगर, रंगिया तथा बैहाटा में ग्रीनफील्ड गुड्स शेड (पीपीपी प्रारूप) भी शुरू होने वाली है। कंटेनर यातायात में भी उल्लेखनीय वृद्धि

पूसीरेल में कंटेनर यातायात में भी उल्लेखनीय वृद्धि हुई है। वित्त वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही के दौरान, पू. सी. रेल 98 कंटेनर रेकों का संचालन कर चुकी है। यह पिछले वर्ष की संबंधित अवधि की तुलना में 172 प्रतिशत अधिक है। पूर्वोत्तर सीमा रेल में 11 कंटेनर हैंडलिंग टíमनल हैं। कंटेनर द्वारा ढुलाई की जाने वाली प्रमुख अंतर्गामी सामग्रियों में टाइल्स, स्पंज आयरन, बिटूमन, छोटे पत्थर, व्हाइट सीमेंट, मार्बल, क्वायल, लिक्विड-पैराफिन एवं दाल हैं। जबकि कंटेनर द्वारा ढुलाई की जाने वाली प्रमुख बहिर्गामी सामग्रियों में कंक्रीट पेवर ब्लॉक्स, चाय एवं जूट बोरी बैग इत्यादि शामिल है। पूर्वोत्तर तथा बंगाल क्षेत्र से बहिर्गामी दिशा में विभिन्न प्रकार के कृषि उत्पादों, बागवानी सामग्रियों के परिवहन को भी प्रोत्साहित किया जा रहा है।

Edited By: Jagran