स्टीम जंगल टी सफारी भी कर रही पर्यटकों के बीच लोकप्रियता हासिल

जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : एनएफ रेलवे ने यूनेस्को विश्व धरोहर दर्जा प्राप्त दाíजलिंग हिमालयन रेलवे (डीएचआर) द्वारा शुरू की गई ट्वॉय ट्रेन के प्रति रूझान पर्यटकों का बढ़ना शुरू हो गया है। इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि सितंबर महीने में ही अगले एक महीने तक ट्वॉय ट्रेन की सभी सेवाओं की सभी सीटें बुक हो चुकी है। यहां तक अब वेटिंग लिस्ट में लोगों को टिकट लेना पड़ रहा है। डीएचआर के आधिकारिक सूत्रों द्वारा बताया गया कि वेटिंग लिस्ट को कम करने के लिए ट्वॉय ट्रेनों में अतिरिक्त कोच जोड़े जाएंगे।

इस बारे में एनएफ रेलवे कटिहार डिविजन के डीआरएम सुवेंदु कुमार चौधरी ने बताया कि ट्वॉय ट्रेन में वेटिंग लिस्ट देखते हुए एनजेपी-दार्जिलिंग-एनजेपी ट्वॉय ट्रेन में अगले महीने एक अतिरिक्त कोच जाएंगे, जो फिलहाल दो कोच के साथ आवागमन कर रही है। इसी तरह से दार्जिलिंग-घूम-दार्जिलिंग ट्वॉय ट्रेन की ज्वॉय राइड सेवा में दो अतिरिक्त कोच जाएंगे। ट्वॉय ट्रेन की ज्वॉय राइड सेवा फिलहाल दो कोच के साथ संचालित हो रही है। उन्होंने कहा कि एनजेपी-दार्जिलिंग-एनजेपी ट्वॉय ट्रेन सेवा पिछले महीने 25 अगस्त से शुरू हुई थी। शुरू होने के एक महीने से कम समय में ही पर्यटकों का रूझान बढ़ना शुरू हो गया है। बताया गया कि कोरोना काल शुरू होने के बाद पिछले वर्ष 25 मार्च से ही एनजेपी-दार्जिलिंग-एनजेपी ट्वॉय ट्रेन सेवा ठप थी।

डीआरएम ने बताया कि इसी तरह 'स्टीम जंगल टी सफारी' कम समय में पर्यटकों के बीच लोकप्रियता हासिल करने लगी है। सिलीगुड़ी जंक्शन से रंगटंग तथा फिर रंगटंग से लेकर सिलीगुड़ी जंक्शन तक सिंगल ट्वॉय ट्रेन के 'स्टीम जंगल टी सफारी' नामक एक नई सेवा की शुरुआत पिछले महीने 30 अगस्त से शुरू की गई थी। अभी देखा जा रहा कि सप्ताह में शनिवार, रविवार तथा सोमवार को 'स्टीम जंगल टी सफारी' पूरी तरह से भर कर जा रही है। उन्होंने बताया कि स्टीम जंगल टी सफारी ट्वॉय ट्रेन की सेवा को मांग के आधार पर नियमित रूप से चलाने की योजना है। इसमें विस्टाडोम कोच की सुविधा उपलब्ध है तथा इसे स्टीम इंजन से संचालित की जाती है। यह ट्वॉय ट्रेन टी-गार्डेन प्राकृतिक सुंदरता के अलावा हिमालयन पहाड़ियों के मनमोहक दृश्यों के बीच से गुजरती है। फिलहाल विस्टोडोम कोच में 14 यात्रियों की यात्रा करने की व्यवस्था है। हालांकि मांग के अनुसार अतिरिक्त कोच भी जोड़े जा सकते हैं।

Edited By: Jagran