-मौके से कई ट्रैक्टर और जेसीबी मशीन भी जब्त

-जिले के एडीएम के निर्देश पर की गई कार्रवाई

जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : अवैध रुप से क्रशर प्लांट चलाने के आरोप में भूमि व भूमि सुधार विभाग ने दार्जिलिंग जिला एडीएम के निर्देश में उसके मालिक को गिरफ्तार किया है। उसका नाम सरबजीत सिंह बताया गया है। आरोपित को शुक्रवार सिलीगुड़ी अदालत में पेश किया गया। जहां से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। उधर, जिला प्रशासन ने दोबारा प्लांट व वहां मौजूद क्रशर मशीनों को सील करने के साथ वाहन और बालू-बजरी जब्त किया है।

यहां बताते चलें कि सिलीगुड़ी महकमा के नक्सलबाड़ी प्रखंड अंतर्गत मणीराम ग्राम पंचायत के रतनजोत इलाके से होकर बहने वाली मेची नदी किनारे एक क्रशर प्लांट चलाया जा रहा था। कागजात व कानूनी खामियों की वजह से इस प्लांट को दार्जिलिंग जिला प्रशासन ने वर्ष 2020 के अगस्त महीने में सील कर दिया था। आरोप है कि कागजात और कानूनी प्रक्रिया पूरी किए बगैर ही प्रबंधन ने प्रशासन को अंगूठा दिखाकर क्रशर प्लांट को चालू कर दिया। सूचना के आधार पर दार्जिलिंग जिला भूमि व भूमि सुधार विभाग ने बीते गुरुवार को प्लांट पर औचक निरीक्षण किया। औचक निरीक्षण के लिए दार्जिलिंग जिला भूमि व भूमि सुधार विभाग के एडीएम, सिलीगुड़ी महकमा शासक व नक्सलबाड़ी के बीडीओ समेत तमाम अधिकारी उपस्थित थे। अधिकारियों को प्लांट को जारी पाया। फौरन दोबारा प्लांट को सील किया गया। बल्कि मौके पर मौजूद 4 लाख 68 हजार 703 सीएफटी बजरी व बालू प्रशासन ने जब्त किया। उसके साथ एक डंपर, तीन ट्रैक्टर और ट्राली, एक जेसीबी और चार पहिया वाहन मौके से जब्त किया। कानून को अंगूठा दिखाकर सील प्लांट को अवैध रुप से चलाने के आरोप में मालिक सरबजीत सिंह को गिरफ्तार किया।

Edited By: Jagran