सिलीगुड़ी, जागरण टीम। HIGHLIGHTS, GTA, Siliguri Mahkuma Parishad Chunav 2022:  दार्जिलिंग एवं पर्वतीय क्षेत्रों में आज (26 जून) को जीटीए चुनाव 2022 (Gorkhaland Territorial Administration Election 2022) जारी है। दार्जिलिंग में सुबह से लोगों में मतदान का उत्‍साह नहीं दिखा। कर्सियांग में मौसम खुलने के साथ ही मतदाताओं की भीड़ पहुंचने लगी। इधर, सिलीगुड़ी महकमा परिषद चुनाव 2022 में भी मतदान जारी है। सिलीगुड़ी में वोटिंग के लिए लोगों में काफी उत्‍साह दिख रहा है। हालांकि सभी जगहों से इस बीच छिटपुट हिंसा की खबरें आ रही हैं। सिलीगुड़ी के फांसीदेवा प्रखंड के चटहाट प्राथमिक विद्यालय में बोगस वोट पड़ने की सूचना है। सुबह सात बजे से मतदान शुरू हो गया, जो शाम पांच बजे तक जारी रहेगा। बता दें कि चुनाव परिणाम 29 जून को आना है। दोनों ही चुनावों के सारे लेटेस्‍ट अपडेट हम यहां देते रहेंगे। चुनावी हिंसा, मतदान प्रतिशत, लोगों के उत्‍साह और बारिश के बीच मतदान सहित दोनों चुनावों के पल-पल के अपडेट्स के लिए हमारे साथ बने रहें:

HIGHLIGHTS, GTA, Siliguri Mahkuma Parishad Chunav 2022: 

07:30 PM:  छिटपुट घटनाओं के बीच विभिन्न नगरपालिका के रिक्त वार्डों के लिए पड़े वोट

रविवार को छिटपुट घटनाओं के बीच बंगाल की विभिन्न नगरपालिकाओं (नपा) के रिक्त वार्डों के लिए वोट पड़े। विरोधी दलों ने मतदान में भारी धांधली का आरोप लगाया है। दूसरी तरफ राज्य चुनाव आयोग ने इसे अबाध व शांतिपूर्ण करार दिया। आयोग के मुताबिक उसके पास पांच-छह शिकायतें आईं, जिनका तुरंत निपटारा कर दिया गया। पानीहाटी नपा के आठ नंबर वार्ड में 58.69 प्रतिशत मतदान हुआ। यह वार्ड तृणमूल कांग्रेस पार्षद अनुपम दत्त की हत्या के कारण रिक्त हुआ था। वहीं दूसरी तरफ झालदा के दो नंबर वार्ड में सर्वाधिक 80.86 प्रतिशत वोट पड़े। यह वार्ड कांग्रेस पार्षद तपन कांदू की हत्या के कारण रिक्त हुआ था। इस हत्याकांड की सीबीआइ जांच कर रही है। इस वार्ड में चुनाव से पहले ही हत्याकांड में आरोपित झालदा थाने के प्रभारी संजीब घोष को छुट्टी पर भेज दिया गया था। चंदननगर नपा के 17 नंबर वार्ड में 73.11 प्रतिशत, भाटपाड़ा नगरपालिका के तीन नंबर वार्ड में 78.41 प्रतिशत और दमदम नपा के चार नंबर वार्ड में 72.09 प्रतिशत मतदान हुआ। सुबह सात बजे से मतदान शुरू हुआ और शाम पांच बजे तक चला।

05:15PM: जीटीए सभा चुनाव में शाम चार बजे तक 56.5 प्रतिशत मतदान हुए। इसी के साथ ही यहां मतदान का कार्य पूरा हुआ। पर्वतीय क्षेत्रों दार्जिलिंग, कालिम्‍पोंग और कर्सियांग में जीटीए सभा चुनाव का रंग फीका रहा। यहां कम संख्‍या में मतदाता बूथों तक पहुंचे। सिलीगुड़ी महकमा चुनाव परिषद में शाम पांच बजे तक मतदान हुए। यहां जमकर वोटिंग हुई। यहां बुजुर्ग,युवा,महिलाओं एवं पुरुषों सभी ने मतदान में पूरे उत्‍साह से भागीदारी की। सिलीगुड़ी महकमा परिषद चुनाव में शाम पांच बजे तक कुल 79.35 प्रतिशत वोटिंग हुई।

03:38 PM: अपराह्न तीन बजे तक सिलीगुड़ी महकमा परिषद चुनाव में 62.08 प्रतिशत मतदान हुए। जबकि जीटीए सभा चुनाव में 51.9 प्रतिशत वोटिंग हुई। शुरुआती हिंसा के बाद अब तक सभी जगहों पर मतदान शांतिपूर्ण हो रहे हैं। सिलीगुड़ी के सभी प्रखंडों में मतदाताओं की लंबी-लंबी कतार दिखीं। दार्जिलिंग सहित पहाड़ों पर कम संख्‍या में मतदाता बूथों तक पहुंचे। सिलीगुड़ी के खोरीबारी प्रखंड के भोगभीटा प्राथमिक विद्यालय मतदान केंद्र स्थित बूथ नंबर 63 पर ईवीएम खराब होने व धीमी गति से चल रहे मतदान को लेकर देर से लाइन में खड़े रहने के कारण मतदाता भड़क उठे। लेकिन, समझाने पर फिर से शांति से मतदान किए।

03:27 PM: हाम्रो पार्टी अध्‍यक्ष अजय एडवर्ड ने कम मतदाताओं के बूथों तक पहुंचने पर कहा-

अजय एडवर्ड संत रॉबर्ट्स स्कूल दार्जिलिंग में अपना वोट डालने पहुंचे। जीटीए सभा चुनाव में लोगाें के उत्‍साह में कमी का कारण और मतदाताओं के लो टर्नआउट के बारे में पूछने पर उन्‍होंने कहा कि पहाड़ में शाम चार बजे तक वोट पड़ेंगे। अभी भी एक घंटे बाकी हैं। शाम चार बजे के बाद ही वो इसपर कुछ कमेंट करेंगे। कहा कि सुबह में बारिश की वजह से कम लोग बूथों तक पहुंचे। बता दें उनकी पार्टी ने सभी 45 सीटों पर अपने उम्‍मीदवार दिए हैं। उन्‍होंने कहा कि हमें घमंड नहीं है, मगर हम आशावादी हैं। जनता को जो भी फैसला होगा उन्‍हें मंजूर होगा। उनकी पार्टी कभी सत्‍ता में नहीं रही, क्‍योंकि वे लोग बस काम कर रहे थे।

03:16 PM: खोरीबारी प्रखंड के भोगभीटा प्राथमिक विद्यालय मतदान केंद्र स्थित बूथ नंबर 63 पर ईवीएम खराब होने से एक घंटा तक मतदान ठप रहा। बाद में दूसरा ईवीएम आने के बाद फिर से मतदान शुरू हुआ। यहां महिला मतदाताओं की लंबी कतार देखी गई।

03:10 PM: हल्‍की बारिश के बावजूद सिलीगुड़ी के चारों प्रखंडों नक्‍सलबाड़ी, फांसीदेवा, माटीगाड़ा और खोरीबाड़ी में बम्पर वोटिंग हुई।  दिन के तीन बजे तक सिलीगुड़ी महकमा परिषद में 62.01 % मतदान हुआ। जबकि दार्जिलिंग, कालिम्‍पोंग और कर्सियांग में जीटीए सभा चुनाव का उत्‍साह फीका रहा। यहां दोपहर एक बजे तक 24 प्रतिशत वोट पड़े थे।

02:05 PM: वोटर आइडी कार्ड के अनुसार 100 वर्षीया महिला मतदान करने के बाद सड़क किनारे बैठकर आराम करती हुईं। उन्‍होंने फांसी देवा खंड के ज्योति नगर मतदान केंद्र पर अपने मताधिकार का प्रयोग किया। यहां पहली बार वोट देने यु‍वतियों और बड़ी संख्‍या में महिलाओं में भी मतदान को लेकर उत्‍साह दिखा।

फांसीदेवा आवासीय उच्चतर हाई स्कूल ज्योति नगर मतदान केंद्र पर पहली बार वोट देकर उत्‍साहित युवतियां।

फांसीदेवा आवासीय उच्चतर हाई स्कूल ज्योति नगर मतदान केंद्र पर मतदान करने के बाद अपनी खुशी का इजहार करतीं महिला वोटर्स।

01:30 PM: जीटीए चुनाव एक नजर में

बता दें कि गोरखालैंड टेरिटोयिल एडमिनिस्‍ट्रेशन (जीटीए) चुनाव 10 सालों बाद हो रहा है। चुनाव की अधिसूचना जारी होते ही कई राजनीतिक दलों ने इसका जमकर विरोध किया था। गोरखा जनमुक्ति मोर्चा (गोजमुमो) के अध्‍यक्ष बिमल गुरुंग दार्जिलिंग में अनशन पर बैठे थे। मगर पांचवें दिन उनकी तबीयत खराब होने के कारण पहले दार्जिलिंग में फिर गंगटोक के एक अस्‍पताल में भर्ती करना पड़ा था। भाजपा ने भी जीटीए का जमकर विरोध किया था।

बहरहाल दार्जिलिंग, कर्सियांग व कालिम्‍पाेंग में जीटीए सभा चुनाव में 45 समष्टियों (सीटों) पर कुल 277 उम्‍मीदवार जोर आजमाइश कर रहे हैं। भारतीय गोरखा प्रजातांत्रिक मोर्चा ने 35 सीटों, तृणमूल ने 10 और हाम्रो पार्टी ने कुल 45 सीटों पर अपने उम्‍मीदवार उतारे हैं। यहां 200 से ज्‍यादा सीटों पर निर्दलीय उम्‍मीदवार ताल ठोंक रहे हैं। यहां मतदान केंद्रों की कुल संख्‍या 922 है। जिनमें 101 केंद्र संवेदनशीन हैं और पांच मतदान केंद्र अति संवेदनशील क्षेत्र में हैं। सभी जगहों पर कुल 4700 मतदानकर्मी ड्यूटी में लगाए गए हैं। कर्सियांग में कुल 15 समष्टियों में  कुल 247632 मतदाता हैं। यहां 324 मतदान केंद्र हैं, जिसमें 32 संवेदनशील क्षेत्रों में है।

01:04 PM: फांसीदेवा प्रखंड के लिउसीपाखरी स्थित रंगापान प्राथमिक विद्यालय में मतदान के लिए लाइन में खड़ीं महिला वोटर्स। यहां महिलाओं में मतदान के लिए लंबी कतार लगी है। बड़ी संख्‍या में यहां महिला मतदाता कतार में लगकर धैर्यपूर्वक अपनी बारी का इंतजार कर रही हैं।

12:56 PM: सिलीगुड़ी महकमा परिषद चुनाव एक नजर में

सिलीगुड़ी महकमा परिषद क्षेत्र में कुल 382 मतदान केंद्रों में 657 बूथ पर मतदान हो रहे हैं। हर बूथ पर राज्य पुलिस बल के साथ ही साथ सीसीटीवी कैमरे से भी निगरानी की व्यवस्था है। इस चुनाव में महकमा के 5,27,938 मतदाता विभिन्न राजनीतिक दलों के उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे। सिलीगुड़ी महकमा परिषद की नौ सीटों के लिए 41 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं। वहीं, चार प्रखंडों माटीगाड़ा, नक्सलबाड़ी, खोरीबाड़ी व फांसीदेवा की कुल मिलाकर चार पंचायत समितियों की 66 सीटों पर 232 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। इसके साथ ही सिलीगुड़ी महकमा के चारों प्रखंड अंतर्गत कुल 22 ग्राम पंचायतों की कुल 462 सीटों पर 1442 उम्मीदवारों का किस्‍मत की चाबी आज ईवीएम में बंद हो जाएगी ।

12:26 PM: मतदान शुरू होते ही शुरू हुआ रक्तपात। सिलीगुड़ी महकमा के फांसीदेवा प्रखंड में ग्राम पंचायत के निर्दलीय उम्मीदवार अख्तर अली पर हमला किया गया। इस हमले में निर्दलीय उम्मीदवार के एजेंट समेत कुल चार लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। उन्हें इलाज के लिए फांसीदेवा ग्रामीण अस्पताल ले जाया गया है। निर्दलीय उम्मीदवार अख्तर अली ने हमले का आरोप तृणमूल समर्थकों पर लगाया है। उनका आरोप है बिना किसी वाद-विवाद के ही तृणमूल समर्थकों ने हमला किया। बटान और लोहे की छड़ से किये हमले में उनके पोलिंग एजेंट समेत चार लोग लहू-लुहान हुए हैं।

12:21PM: तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व सिलिगुड़ी महकमा परिषद चुनाव के दलीय प्रभारी राज्य के मंत्री अरूप विश्वास व अन्य नेता दार्जिलिंग जिला तृणमूल कांग्रेस कार्यालय विधान भवन स्थित वार रूम से पंचायत चुनाव की निगरानी करते हुए।

12:17 PM: कर्सियांग के नेताजी हाई स्कूल,घैयाबारी के मतदान केन्द्र में मतदाताओं की काफी भीड़ देखी गई। यहां लोगों में  आने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए काफी उत्‍साह दिख रहा है।

12:11 PM: कर्सियांग क्षेत्र के मतदान केन्द्रों में जीटीए सभा चुनाव को लेकर लोगों में  सुबह से कोई खास उत्साह नहीं दिख रहा था। मतदान केन्द्रों में अपनी मताधिकार का प्रयोग करने सुबह तेज बारिश होने के कारण काफी कम संख्‍या में मतदाता पहुंच रहे थे। मगर अब मौसम खुलने केे साथ ही लोगों की भीड़ बढ़ने लगी है।

12:11 PM:29 नंबर कर्सियांग-गिद्ध पहाड़ समष्टि के भारतीय गोरखा प्रजातांत्रिक मोर्चा (भागोप्रमो) के उम्मीदवार अनित थापा मतदान करते हुए।

12:06 PM: अभी मौसम सुहावना होने के कारण धीरे -धीरे मतदाता मतदान करने के लिए लोग छाता आदि के साथ मतदान केन्द्र में पहुंच रहे हैं।

12:01 PM: जीटीए चुनाव में सुबह 11 बजे तक 24.4% और सिलीगुड़ी महकमा परिषद में 28.27 % वोट पड़े हैं। कर्सियांग क्षेत्र में 11 बजे तक 22 प्रतिशत मतदान हुआ। यहां बारिश के कारण कम संख्‍या में लोग पहुंच रहे हैं।

11:56 AM: फांसीदेवा प्रखंड के चटहाट प्राथमिक विद्यालय मतदान केंद्र के 27/233 नंबर बूथ पर फर्जी वोट डालने का आरोप। एक घंटे कतार में खड़ी रहने के बाद अनिमा टिग्गा नामक महिला जब बूथ के भीतर दाखिल हुए और अपना मतदाता पहचान पत्र दिखाया तो मतदान कर्मियों ने बताया कि उनके नाम पर वोट पड़ चुका है। यह सुनकर ही महिला हक्का-बक्का रह गई। जानकारी के मुताबिक अनिमा दिग्गा की भाभी निर्दलीय उम्मीदवार हैं।

11:50 AM: सिलिगुड़ी महाकमा परिषद चुनाव में छिटपुट हिंसा की खबरें आने लगी है।  चटहाट के फाटामारी 167 नंबर बूथ पर तृणमूल कांग्रेस समर्थकों के हमले में महकमा परिषद 8 नंबर सीट के कांग्रेस प्रार्थी श्यामल कुमार मंडल घायल हो गए हैं। इस घटना के बाद वहां काफी देर तक तनाव बना रहा । हमले का यह आरोप दार्जिलिंग जिला कांग्रेस के अध्यक्ष तथा पूर्व विधायक शंकर मालाकार ने लगाया है।

11:30 AM:  छिटपुट हिंसा के बीच सिलीगुड़ी महकमा परिषद का  मतदान जारी। सुबह 9:00 बजे तक 12.5% मतदान दर्ज किया गया। इसे एक बेहतर शुरुआत के रूप में देखा जा रहा है। इस बार पिछले बार की तुलना में अधिक वोट पड़ने की उम्‍मीद है।

बता दें कि सिलीगुड़ी महकमा परिषद का त्रिस्‍तरीय पंचायत चुनाव इससे पहले वर्ष 2015 में हुआ था। 2020 में इसका कार्यकाल पूरा हो गया था, मगर पिछले दो वर्षो से कोविड महामारी के कारण चुनाव टल रहा था। कोविड महामारी के न्‍यूनतम स्‍तर पर पहुंचने के बाद गत 27 मई को चुनाव की अधिसूचना जारी की गई थी। दो जून तक नामांकन हुए। सात जून तक नामांकन वापस लेने की प्रक्रिया पूरी हुई। आज 26 जून को वोटिंग हो रही है। आगामी 29 जून को चुनाव परिणाम आना है। दीगर है कि 1989 में अपनी स्‍थापना के बाद से ही सिलीगुड़ी महकमा परिषद लगातार माकपा नीत वाम मोर्चा के कब्‍जे में रहा है। मगर इस बार नगरपालिका चुनाव में तृणमूल कांग्रेस की जीत से पार्टी के हौंसले बुलंद हैं। भाजपा ने भी चुनाव में जोर लगा रखा है। उधर वाम मोर्चा भी फिर से जीत का सेहरा बांधने को ताल ठोंक रहा है।

Edited By: Sumita Jaiswal