जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी: सीआईआई ने कर्सियाग में मुख्यमंत्री की प्रशासनिक बैठक में की गई घोषणाओं की सराहना की है। सीआईआई नार्थ बंगाल ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए कहा है कि पर्यटन, चाय, कृषि, बागवानी और औषधीय पौधों, आईटी और टेक्सटाइल को इस क्षेत्र में औद्योगिकी के रूप में स्थापित करने को लेकर चर्चा मुख्यमंत्री द्वारा की गयी है, जो इस क्षेत्र में आवश्यक आर्थिक परिवर्तन लाने में सक्षम होगा। हम इसकी सराहना करते हैं। इसके लिए एक समिति बनाने की बात कही गयी है, जिसमें सीआईआई और अन्य संस्थानों तथा राजनीतिक नेताओं को शामिल करके इन क्षेत्रों के लिए रोडमैप बनाने का निर्देश दिया गया है। सीआईआई नार्थ बंगाल के चेयरमैन संजय टिबड़ेवाल ने कहा कि एमएसएमई विभाग और जिला प्रशासन की सहायता और समर्थन से उत्तर बंगाल के सभी 8 जिलों में पिछले 5 वषरें के दौरान एमएसएमई क्षेत्र में भारी निवेश हुआ है, उन्होंने राज्य सरकार को इस दौरान सभी सहायता प्रदान करने के लिए धन्यवाद दिया है।

------------ जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी: सीआईआई ने कर्सियाग में मुख्यमंत्री की प्रशासनिक बैठक में की गई घोषणाओं की सराहना की है। सीआईआई नार्थ बंगाल ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए कहा है कि पर्यटन, चाय, कृषि, बागवानी और औषधीय पौधों, आईटी और टेक्सटाइल को इस क्षेत्र में औद्योगिकी के रूप में स्थापित करने को लेकर चर्चा मुख्यमंत्री द्वारा की गयी है, जो इस क्षेत्र में आवश्यक आर्थिक परिवर्तन लाने में सक्षम होगा। हम इसकी सराहना करते हैं। इसके लिए एक समिति बनाने की बात कही गयी है, जिसमें सीआईआई और अन्य संस्थानों तथा राजनीतिक नेताओं को शामिल करके इन क्षेत्रों के लिए रोडमैप बनाने का निर्देश दिया गया है। सीआईआई नार्थ बंगाल के चेयरमैन संजय टिबड़ेवाल ने कहा कि एमएसएमई विभाग और जिला प्रशासन की सहायता और समर्थन से उत्तर बंगाल के सभी 8 जिलों में पिछले 5 वषरें के दौरान एमएसएमई क्षेत्र में भारी निवेश हुआ है, उन्होंने राज्य सरकार को इस दौरान सभी सहायता प्रदान करने के लिए धन्यवाद दिया है।

Edited By: Jagran