कूचबिहार [जागरण संवाददाता]। गणतंत्र बचाओ यात्रा को लेकर कलकत्ता हाईकोर्ट सीनियर डिवीजन बेंच द्वारा भाजपा के पक्ष में दिए गए फैसले को पार्टी के वरीय नेताओं ने ममता बनर्जी के मुंह पर तमाचा करार दिया है। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजय वर्गीय और पूर्व मंत्री मुकुल रॉय ने कहा कि अदालत पर उनको पूरा भरोसा है। और, उनके निर्णय का सम्मान करते हैं।
गुरुवार की शाम कूचबिहार रेलवे स्टेशन पर नेताद्वय ने कहा कि अदालत के फैसले का हम सम्मान व स्वागत करते हैं। हमें न्यायपालिका से पूरे न्याय की उम्मीद थी और हमें न्याय मिला। यह ममता सरकार के गाल पर करारा तमाचा है। उनकी सामंती सोच और अहंकार पर तमाचा है। उनकी तानाशाही पर तमाचा है। लोकतंत्र में ऐसा नहीं होता है कि किसी राजनीतिक दल को उसकी गतिविधियों को संचालित करने से रोका जाए। मगर, दुर्भाग्य से पिछले सात वर्षों से ममता जी यही कर रही हैं कि हमें कुछ भी करने के लिए यहां तक कि हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष जी की सभा के लिए भी अदालत जाना पड़ता है। 
पश्चिम बंगाल प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने भी इस फैसले का स्वागत किया है। अब कूचबिहार से रथ यात्रा निकाली जाएगी या नहीं? इस बारे में उन्होंने कहा कि कूचबिहार शहर से तो नहीं लेकिन कूचबिहार जिला के ही कहीं न कहीं से रथयात्रा निकाली जाएगी। कब, कहां से रथ यात्रा निकाली जाएगी यह उन्होंने स्पष्ट नहीं किया।

 

Posted By: Rajesh Patel