सिलीगुड़ी, जागरण संवादाता। धर्म बदलकर पासपोर्ट बनावा अवैध तरीके से भारत-नेपाल की सीमा लांघने की कोशिश करने के आरोप में सशस्त्र सीमा बल की 41वीं बटालियन ने एक बांग्लादेशी घुसपैठिए को  गिरफ्तार किया है। सीमा पार करने के लिए आरोपित ने पासपोर्ट नहीं बल्कि धर्म परिवर्तन व अनुकूल रूप धारण किया। शनिवार को सिलीगुड़ी के निकट बिहार-नेपाल भातगांव बॉर्डर आउट पोस्ट पर तैनात एसएसबी के जवानों ने घुसपैठिए  को गिरफ्तार किया। पूछताछ के बाद घुसपैठिए को बिहार के किशनगंज जिला अंतर्गत गलगलिया थाना पुलिस के हवाले कर दिया गया। 

एसएसबी सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार, आरोपित का वास्तविक नाम मुहम्मद मोइनुद्दीन (48) है। धर्म परिवर्तन के बाद उसने अपना नाम डेनियल डिसिल्वा रखा। आरोपी मूल रूप से बांग्लादेश की राजधानी ढाका के 167/2 लाल बाघ रोड इलाके का निवासी है। धर्म परिवर्तन के बाद आरोपी का नया ठिकाना नेपाल के चंद्रगढ़ी इलाका स्थित मानिको होटल है। गिरफ्तारी के समय आरोपी के पास से कोई वैध दस्तावेज बरामद नहीं हुआ है। एसएसबी सूत्रों के मुताबिक, कुरान त्याग बाइबल कुबूल करने के साथ घुसपैठिए ने अपनी वेश-भूषा व रूप भी अनुकूल बनाया, ताकि सीमा लांघते समय उस पर संदेह ना हो। 

गौरतलब है कि सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के साउथ बंगाल फ्रंटियर के जवानों ने गुरुवार मध्यरात्रि में विशेष अभियान चलाकर बांग्लादेश सीमा से सटे विभिन्न स्थानों से फिर 23 अवैध घुसपैठिए को गिरफ्तार किया है। इसके अलावा 65 मवेशियों को भी जब्त किया है, जिसे बांग्लादेश में तस्करी का प्रयास किया जा रहा था। बीएसएफ की ओर से बताया गया कि उत्तर 24 परगना जिले के बशीरहाट थाना अंतर्गत बीओपी घोझाडांगा इलाके से बीएसएफ जवानों ने छह बांग्लादेशी और एक भारतीय मूल के नागरिकों को पकड़ा, जब वे अवैध रूप से अंतरराष्ट्रीय सीमा पार कर भारतीय क्षेत्र में प्रवेश कर गए थे। वहीं, स्वरूपनगर थाना अंतर्गत बीओपी डोबिला व बीओपी तराली क्षेत्र से चार-चार बांग्लादेशी नागरिकों को गिरफ्तार किया गया।

इसके अलावा छपरा थाना अंतर्गत बीओपी महाखोला इलाके से भारतीय मूल के दो नागरिकों को पकड़ा गया। इनके अलावा बीओपी हकीमपुर क्षेत्र से चार बांग्लादेशी और एक भारतीय मूल के नागरिक को गिरफ्तार किया गया। वहीं, एक बांग्लादेशी को सुती थाना अंतर्गत बीओपी चांदनी चौक क्षेत्र से पकड़ा गया। बीएसएफ ने गिरफ्तार सभी घसुपैठिए को आगे की कानूनी कार्रवाई के लिए संबंधित थाने के हवाले कर दिया है। साउथ बंगाल फ्रंटियर के जवानों द्वारा इस साल 1183 बांग्लादेशी घुसपैठिए को गिरफ्तार किया जा चुका है, जब वे सीमा पार करने की कोशिश कर रहे थे।

बंगाल की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप