- पुलिस और मजिस्ट्रेट के सामने दिया बयान

-ड्रग्स तस्करों की चंगुल में फंस गया था

-जान बचाने के लिए चला गया था मौसी के घर

-चार लोग हिरासत में,टीआई परेड कराएगी पुलिस जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी: शहर के वार्ड 29 दादाभाई स्पोìटग क्लब के पास से रहस्यमय तरीके से गायब टेबल टेनिस खिलाड़ी 22 वर्षीय सुजीत चटर्जी आखिरकार रहस्यमय तरीके से ही शुक्रवार की रात अपने घर लौट आया है। आने के बाद शनिवार को उसने जो बातें पुलिस और मजिस्ट्रेट को बताई है वह चौकाने वाली है। उसने कहा कि वह ड्रग्स गिरोह के जंजाल में फंस गया था। अब वह ड्रग्स का सेवन बंद कर चुका है। वह मा को खुश देखना चाहता है। बयान दर्ज कराने के बाद पुलिस आगे की कार्रवाई में लग गई है। इस मामले में चार लोगों की गिरफ्तारी भी हुई है। पुलिस टीआई परेड कराकर आगे की कार्रवाई करेगी।

सुजीत ने अपनी मा के साथ दैनिक जागरण को बताया कि लॉकडाउन में वह ड्रग्स धंधेबाजों के संपर्क में आकर ड्रग्स लेने लगा था। घर के कई सामान बेचकर ड्रग्स लेकर मस्त रहता था। अचानक पिछले कुछ दिनों से इससे होने वाली तकलीफ और परेशानियों से ड्रग्स को हाथ नही लगाने का संकल्प लिया। ड्रग्स लेना छोड़ दिया। लेकिन ड्रग्स देने वाले लगातार पैसे की मांग करले लगे थे। इसी डर से अपने मौसी के घर चला गया था।

कौन- कौन है ड्रग्स गिरोह में

सुजीत ने बताया है कि इस गिरोह में करन मुख्य सप्लायर है। उसके साथ विशाल गुजर व छोटका आदि बागराकोट निवासी है। जिससे वह संपर्क में आया। इसका पूरे शहर में बड़ा नेटवर्क है। जिसके बल पर यह धंधा करता है। ड्रग्स स्कूटी के अंदर छुपाकर रखा जाता है। मोबाइल से धंधा का संचालन होता है। पुलिस ने इन सभी को हिरासत में लिया है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस