जागरण संवाददाता : दि इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (आईसीएआई) की ईस्टर्न इंडिया रीजनल काउंसिल (ईआईआरसी) की सिलीगुड़ी शाखा की ओर से शनिवार को एक वर्चुअल सेमिनार आयोजित किया गया। इसका विषय व्यावसायिक अवसर : नवीनता अथवा विलुप्ति था।

इस पर आईसीएआई की प्रोफेशनल डेवेलपमेंट कमेटी के चेयरमैन व सेंट्रल काउंसिल सदस्य सीए जय छैरा ने कहा कि बदलती परिस्थितियों में हम सभी को नवोन्मेष पर जोर देना होगा या फिर व्यावसायिक अवसरों से हाथ धो लेना होगा। उन्होंने पेशे में परिस्थिति के साथ अनुकूलन के लिए नवप्रवर्तन के महत्व के विभिन्न बिंदुओं को रेखाकित किया। वहीं, सीए सुभाष चंद्र सर्राफ ने पेशेवर मौके : आरोहण-सहभागिता- उपलब्धि विषय के विविध पहलुओं पर प्रकाश डाला। इस सेमिनार में आईसीएआई की सिलीगुड़ी शाखा के कई पूर्व अध्यक्षों, वरिष्ठ सदस्यों और सीए सदस्यों व युवा सदस्यों ने भी भाग लिया। इसका संयोजन सीए आयुष अग्रवाल ने किया। शाखा सचिव सीए अभिजीत दत्ता ने धन्यवाद ज्ञापन किया।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस