एनबीएमसीएच के आइसोलेशन वार्ड में एसी तक नहीं

-जूनियर डॉक्टरों ने किया विरोध प्रदर्शन

- ढाचागत व्यवस्था में तत्काल सुधार की माग जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी: उत्तर बंगाल मेडिकल कॉलेज और अस्पताल एनबीएमसीएच के जूनियर डॉक्टरों ने शुक्रवार को मेडिकल अस्पताल के अधीक्षक कार्यालय के सामने प्रदर्शन किया। जूनियर डॉक्टरों का कहना है कि मेडिकल अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में एसी की व्यवस्था नहीं है। ऐसे में गर्मी के दिन में पीपीई किट पहनकर काम करने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। आइसोलेशन वार्ड में एसी लगाने की माग पहले भी की गई थी लेकिन इस पर ध्यान नहीं दिया गया। इसके अलावा आइसोलेशन वार्ड की गाइडलाइन को नहीं माना जा रहा है। आइसोलेशन वार्ड में ही मरीज के परिजन भी आ रहे हैं। इस पर ध्यान देने की जरूरत है। इसके अलावा उन्होंने कहा कि आइसोलेशन वार्ड तथा रेस्पिरेट्री इंटेंसिव केयर यूनिट वार्ड में भर्ती मरीजों के लिए वेंटिलेटर की संख्या और बढ़ानी होगी, क्योंकि गंभीर स्थिति वाले मरीजों को ऑक्सीजन देने की जरूरत पड़ती है। ऐसे में वेंटिलेटर बिना यह कर पाना संभव नहीं रहता है। उनका कहना था कि मेडिकल अस्पताल में कई सालों से सीटी स्कैन की सुविधा ठप हो गई है। कोरोना महामारी के दौर में अगर किसी मरीज को सीटी स्कैन करने की जरूरत पड़ती है, तो उस समय मरीज का सीटी स्कैन नहीं हो पाता है। अस्पताल अधीक्षक डॉ कौशिक समाद्दार ने इन सब समस्याओं पर विचार करने की बात कही।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस