-भाजपा झूठी कहानी गढ़ रही है : विप्लव मित्र

-बंदूक की नोक पर अपहरण करके गंगारामपुर ले गए थे, मैं किसी तरह वहां से भाग निकला : विप्लव महतो

संवाद सूत्र, बालुरघाट : भाजपा का विजयी उम्मीदवार विप्लव महतो को अपहरण के विरोध में मंगलवार को सड़क जाम किया गया। अपहरण का आरोप तृणमूल कार्यकर्ताओं पर लगाया गया है। वैसे विप्लव महतो मंगलवार की सुबह घर आ गया था। फिर भी इलाके में उत्तेजना का माहौल है। पुलिस ने सड़क जाम व प्रदर्शन के दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं पर लाठी चार्ज भी किया। गौरतलब है कि बालुरघाट महकमा के अधीन बालुरघाट, हिली ब्लॉक, तपन ब्लॉक व कुमारगंज ब्लॉक के ग्राम पंचायतों में आज बोर्ड गठन होने वाला था। चार ब्लॉक के 35 ग्राम पंचायतों में से आज 34 ग्राम पंचायतों में बोर्ड गठन होना था। लेकिन सोमवार रात को बालुरघाट ब्लॉक के डांगा ग्राम पंचायत के मालंचा संसद के विजयी भाजपा उम्मीदवार का अपहरण कर लिया गया। भाजपा का आरोप है कि हथियार के बल पर विप्लव महतो का अपहरण किया गया।

भाजपा के विप्लव महतो ने बताया कि बंदूक दिखाकर मेरा अपहरण किया गया। मेरी आंखों में पट्टी बंधी थी। इसलिए मुझे पता नहीं चला कि वें मुझे कहां ले जा रहे है। मुझे एक विरान कोठरी में रख दिया गया। सुबह जब मेरी आंख खुली तो खुद को अलग जगह पर पाकर परेशान हो गया और यहां से निकलने का प्रयास करने लगा। वहां से मैं किसी तरह निकल गया। स्थानीय लोगों ने से पूछा, तो मुझे बताया कि यह गंगारामपुर है। मैंने स्थानीय भाजपा कार्यालय में संपर्क किया। इसके बाद मेरे साथियों ने मुझे डांगा में पहुंचा दिया।

भाजपा के जिला महासचिव बापी सरकार ने बताया कि हमारे विजयी उम्मीदवार को फोन पर धमकी दी गयी। तृणमूल के लोगों ने विप्लव महतो को अपहरण किया। सुबह ग्रामीणों ने मालंचा के तृणमूल कार्यकर्ता के घर पर हंगामा किया। हमलोग शांतिपूर्ण तरीके से आंदोलन कर रहे थे। लेकिन पुलिस ने हमारे कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया और उनपर लाठी चार्ज किया।

तृणमूल के जिला अध्यक्ष विप्लव मित्र ने बताया कि लोगों की सहानुभूति पाने के लिए भाजपा झूठी कहानी गढ़ रही है। इस अपहरण की घटना में हमारे कार्यकर्ताओं का कोई हाथ नहीं है। सोमवार को शांतिपूर्ण बोर्ड गठन हुआ था। भाजपा के लोग जबरन स्थिति को बिगाड़ रहे है।

कैप्शन : भाजपा कार्यकर्ताओं पर लाठी चार्ज करती हुई पुलिस

Posted By: Jagran