-मामला कूचबिहार एबरएन शील कॉलेज का

-अस्थायी कर्मचारी दीपाली बर्मन का छह माह का वेतन बकाया

संवाद सूत्र, कूचबिहार : लंबे समय तक सफाई कर्मी के रूप में परिसेवा देने के बाद कॉलेज प्रशासन ने कर्मचारी को न स्थायी किया। कर्मचारी को छह माह का बकाया वेतन भी कॉलेज प्रशासन नहीं दे रही है। इसे लेकर कूचबिहार एबीएन शील कॉलेज के अस्थायी कर्मचारियों ने धरना प्रदर्शन किया।

कॉलेज की अस्थायी सफाई कर्मचारी दीपाली हरिजन ने बताया कि वर्ष 2003 में मुझे कॉलेज प्रशासन ने अस्थायी कर्मचारी के रूप में नियुक्त किया गया था। मुझे आश्वासन दिया गया कि मुझे स्थायी कर दिया जाएगा। उस समय दो स्थायी कर्मचारी भी थे। वर्ष 2014 में दोनों स्थायी कर्मचारी सेवानिवृत्त हो गए। लंबे समय से कार्यरत दिपाली हरिजन को स्थायी न करके कॉलेज प्रशासन ने बाहर के दो उम्मीदवारों को स्थायी पद के लिए नियुक्त करके मेरे साथ छल किया। इस घटना को लेकर कूचबिहार के विभिन्न विभागों के सफाई कर्मचारी एकजुट होकर धरना प्रदर्शन में शामिल हुए। सभी ने दीपाली को उसके हक दिलाने की मांग की। सफाई कर्मचारियों ने बताया कि यदि दीपाली हरिजन को स्थायीकरण नहीं किया गया, तो हम वृहत्तर आंदोलन करेंगे।

कैप्शन : धरना प्रदर्शन करते अस्थायी कर्मचारी

Posted By: Jagran