आसनसोल : चित्तरंजन के ठेकेदार बलराम सिंह हत्याकांड मामले में रिमांड पर गए रणविजय सिंह की रिमांड अवधी पूरी होने पर पुलिस ने उसे रविवार को आसनसोल सीजीएम अदालत में पेश कर पुन: 6 दिन की रिमांड पर लिया। इस मामले में आरोपित राम बिजय कांगड़ा फरार हैं। जबकि आरोपित अजय मंडल उर्फ गंगू, राहुल सिंह, मुकेश बाल्मीकि की रिमांड अवधी पूरी होने पर उन्हें जेल भेज दिया गया है। आरोपित सूरज बाल्मीकि फिलहाल पुलिस रिमांड पर हैं। पुलिस ने अभी तक इस मामले में हत्या में प्रयुक्त 1 कार, 1 पाइपगन, 2 गोली, 3 बाइक, पॉवर ऑफ अटॉर्नी जब्त की है। पुलिस कोलकाता के दो बड़े स्क्रैप डीलर की तलाश कर रही है, जिन्होंने आरोपितों के नाम पॉवर ऑफ अटॉर्नी दी थी। जिसे लेकर आरोपित 22 जुलाई 2020 को चित्तरंजन कारखाना में होनेवाली नीलामी में भाग लेते। स्क्रैप नीलामी को लेकर ही बलराम सिंह की 17 जुलाई को हत्या की गई थी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस