संवाद सहयोगी, रानीगंज : कैट के समर्थन में रानीगंज चैंबर आफ कामर्स की ओर से ई-कामर्स के खिलाफ हल्ला बोल अभियान के तहत बुधवार को चैंबर भवन के समक्ष विरोध प्रदर्शन किया गया। इस दौरान चैंबर के कार्यकारी अध्यक्ष रोहित खेतान ने कहा कि ई-कामर्स के कारण विशेषकर मध्यम वर्ग के व्यवसायी सड़क पर आ गए है। नियम के खिलाफ देश में ई कामर्स कंपनियां व्यापार कर रही है। बड़े पूंजीपतियों के सामने छोटे व्यापारी अपने आप को असहाय महसूस कर रहे है। कोरोना महामारी के कारण लाखों की संख्या में छोटे व्यापारी पहले ही परेशान हो चुके हैं। उनके लिए केंद्र की सरकार की ओर से भी सकारात्मक कदम नहीं उठाया गया है। जिस कारण मजबूर होकर कैट के आह्वान पर विरोध प्रदर्शन के माध्यम से आंदोलन में उतरे हैं। इस दौरान चैंबर अध्यक्ष प्रदीप बाजोरिया ने कहा कि यह प्रदर्शन सांकेतिक है। आगे हम लोग कैट के साथ लंबी लड़ाई लड़ने को तैयार हैं।

बराकर : कैट के समर्थन में कल्याणेश्वरी रोड स्थित बराकर चैंबर आफ कामर्स कार्यालय के समक्ष बुधवार को ई कामर्स कंपनी के खिलाफ प्रदर्शन किया गया। चैंबर के अध्यक्ष शिव कुमार अग्रवाल ने कहा कि ई कामर्स व्यापार से विदेशी कंपनियां देश के व्यापारियों को लूट रही हैं। इससे भारत सरकार को भी आर्थिक क्षति पहुंच रही है। इस मुद्दे पर सत्ता पक्ष और विपक्ष को एकजुट होकर विरोध कर विदेशी मुद्रा को बचाना चाहिए। उस मुद्रा को राष्ट्र के विकास में खर्च किया जाना चाहिए। मौके पर सुशील अग्रवाल, बालमुकुंद अग्रवाल, सुभाष जालान, सीताराम बरनवाल, श्री नारायण सुहासरिया, मिठू सुल्तानिया , रामेश्वर भगत, विजय जैन, महेश जालान सहित चैंबर के सदस्य उपस्थित थे।

Edited By: Jagran