संवाद सूत्र, पुरोला : तीन दिनों में दो बड़ी दुर्घटनाओं के बाद प्रशासन और पुलिस जाग गई है। रवाई घाटी में परिवहन विभाग के एआरटीओ, प्रशासन व पुलिस ने सड़क सुरक्षा नियमों का पालन न करने पर 61 वाहन चालकों के चालान किए। मोरी में एक वाहन चालक को शराब पीकर गाड़ी चलाते हुए पकड़ा।

संयुक्त टीम ने मोरी, पुरोला, नैटवाड़ में वाहनों की जांच का अभियान चलाया। मोरी और नैटवाड़ में 39 वाहनों का चालान किया गया। जबकि पुरोला में 22 वाहनों का चालान काटा गया। ये वाहन ओवरलोडिग, शराब पीकर तथा बिना कागजों के चल रहे थे। मोरी में एक वाहन चालक को शराब के नशे में गाड़ी चलाते हुए पकड़ा, जिसे एआरटीओ ने पुलिस के सुपुर्द किया तथा उसके लाइसेंस को निरस्त करने की कार्रवाई भी शुरू की। एआरटीओ चक्रपाणि मिश्र ने बताया कि मोरी व पुरोला में यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहनों के विरूद्ध यह संयुक्त अभियान चलाया गया है। संयुक्त चेकिग अभियान में उप जिलाधिकारी मनीष कुमार, एआरटीओ चक्रपाणि मिश्र, सीओ अन्नू आर्य, थाना अध्यक्ष केदार सिंह चौहान मौजूद रहे। सड़क सुरक्षा पर जागा प्रशासन

उत्तरकाशी : जिलाधिकारी डॉ. आशीष चौहान के आदेश के बाद मंगलवार की शाम को उत्तरकाशी में भी प्रशासन, पुलिस व परिवहन विभाग सक्रिय दिखा। कलक्ट्रेट के निकट उत्तरकाशी तिलोथ मार्ग पर एसडीएम देवेंद्र नेगी के नेतृत्व में एआरटीओ चक्रपाणी मिश्र व पुलिस की टीम ने यातायात नियमों को तोड़ने वालों के खिलाफ चालान की कार्रवाई की। देर शाम तक दर्जनों वाहनों का चालान किया गया। इस दौरान यातायात के नियत तोड़ने वाले वाहन चालक अपनी सुरक्षा खतरे में डालते हुए दिखे। ऐसे वाहन चालकों को एसडीएम देवेंद्र नेगी ने फटकार लगाई। साथ ही यातायात नियमों के अनुसार चालान की कार्रवाई भी की गई।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस