काशीपुर, जेएनएन। पुलिस ने प्रतिबंधित पांच सौ और हजार के नोटों के साथ दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। जबकि दो आरोपित फरार हो गए। ये पूरी रकम करीब ढाई करोड़ है। जिसे आरोपित उप्र के मुरादाबाद से लाए हैं। पुलिस ने चारों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। साथ ही वाहन को सीज कर दिया है। 

एसएसपी वरिंदरजीत सिंह ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि कोतवाली पुलिस को आइआइएम रोड स्थित कुंडेश्वरी में कुंवर सिंह बिष्ट प्रॉपर्टी कार्यालय पर प्रतिबंधित करेंसी एकत्र होने की सूचना मिली थी। सूचना पर पुलिस ने प्रॉपर्टी कार्यालय पर छापा मारा। इस दौरान पुलिस ने प्रतिबंधित करेंसी के साथ कुंडेश्वरी निवासी कुंवर सिंह बिष्ट पुत्र बाग सिंह और मोहल्ला कैलाश गेट, ऋषिकेश, थाना मूनिकी, रेती जिला, टिहरी गढ़वाल निवासी बृजेश डिमरी पुत्र धर्मानंद डिमरी को गिरफ्तार कर लिया। जबकि दो आरोपित फरार हो गए।

पुलिस ने करेंसी की गिनती की तो वह ढाई करोड़ निकली। पूछताछ में आरोपितों ने फरार आरोपितों के नाम गुरप्रेम निवासी गुलजारपुर हॉल सिंह बैटरी वाला, कुंडेश्वरी और फौजी कॉलोनी, कुंडेश्वरी निवासी रंजीत सिंह पुत्र सतनाम सिंह बताया। साथ ही उन्होंने बताया कि करेंसी उप्र के मुरादाबाद से लाई गई थी। पुलिस ने चारों आरोपितों के खिलाफ प्रतिबंधित करेंसी रखने के आरोप में केस दर्ज कर लिया है। 

वहीं, सराहनीय कार्य के लिए एसएसपी ने पुलिस टीम को ढाई हजार रुपये के इनाम की घोषणा की। टीम में कोतवाल चंचल शर्मा, एसएसआइ द्वितीय बीएस बिष्ट, दारोगा दिनेश फर्त्याल, खुशवंत सिंह, सुनील बिष्ट, प्रकाश चंद्र टम्टा, हेमचंद्र, कांस्टेबल कुलदीप सिंह, देवेंद्र नेगी, पुष्पेंद्र रावत, दिनेश सिंह, सतीश भट्ट, सुरेंद्र सिंह, दलीप बोनाल आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें: नकली करेंसी ने बढ़ाई पुलिस की चिंता, दो साल में डेढ़ करोड़ के नकली नोट बरामद

यह भी पढ़ें: देहरादून में पकड़े गए 96 लाख 96 हजार के नकली नोट, छह गिरफ्तार

यह भी पढ़ें: रायवाला से नकली नोटों के साथ एक युवक गिरफ्तार

Posted By: Raksha Panthari