संवाद सहयोगी, खटीमा : सुरई रेंज के वन कर्मियों ने उत्तराखंड-उत्तर प्रदेश की सीमा से लगे जंगलों में लंबी दूरी की पैदल गश्त की। इस दौरान वहां बाघ के पद चिह्न मिले। जिनकी जीपीएस रीडिंग की गई। साथ ही लोगों से जंगलों में न जाने की अपील की गई।

वन कर्मियों ने सुरई रेंज के कक्ष संख्या 2,4,5,6,7 में पैदल गश्त कर वन्य जीवों की मौजूदगी का ब्योरा जुटाया। कक्ष संख्या 7 में बाघ के पद चिह्न मिले। जिनकी फोटोग्राफी के साथ ही जीपीएस रीडिंग ली गई। उपराजिक मुनि ने बताया कि मानसून की सीजन में वनों के अवैध दोहन व वन्य जीवों की शिकार पर अंकुश लगाने के लिए समय-समय पर लंबी दूरी की गश्त की जा रही है। उन्होंने हिंसक वन्य जीवों की मौजूदगी को देखते हुए लोगों से जंगलों में न जाने को कहा। इस मौके पर वन दरोगा अजमत खान, विरेंद्र सिंह, शंकर दत्त पनेरू, फूल चंद्र, गंगा विष्णु, सुखदेव सिंह, मुकेश सिंह आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran