जागरण संवाददाता, काशीपुर : अज्ञात कारणों के चलते युवक ने फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर घटना स्थल पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़कर युवक को नीचे उतारा। पुलिस ने युवक का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया।

आवास विकास कॉलोनी निवासी आशीष शर्मा उर्फ आशु (28) पुत्र स्व. रंजीत शर्मा कुछ समय पहले महुआखेड़ागंज स्थित एक फैक्ट्री में काम करता था। माता-पिता का देहांत होने के बाद वह भाई-भाभी के साथ रहता था। भाई रुद्रपुर स्थित एक फैक्ट्री में काम करता है। जबकि वह और भाभी यहां पर रहते थे। आशु दूसरी मंजिल पर रहता था। शुक्रवार रात खाना खाने के बाद वह सोने चला गया। भाभी प्रियंका सुबह तीन बजे उठी थी। इस दौरान उसने आशु को आवाज दी। कोई प्रतिक्रिया न मिलने पर उसने छत पर जाकर दरवाजा खटखटाया, लेकिन इस दौरान भी अंदर से कोई आवाज नहीं आई। जिसके बाद कुछ मोहल्लेवासी एकत्र हो गए। उन्होंने पुलिस को फोन कर बुला लिया। सूचना पर मौके पर पहुंची टांडा उज्जैन चौकी पुलिस ने दरवाजा तोड़ा तो पाया कि आशु का शव पंखे पर बंधे दुपट्टे के फंदे पर लटका था। जिसके बाद शव को पुलिस ने नीचे उतारा। सूचना पर भाई रवीश भी घर पहुंच गया। आशु की अभी शादी नहीं हुई थी। टांडा उज्जैन पुलिस चौकी इंचार्ज सुनील ¨सह बिष्ट ने बताया कि मृतक नशे का आदि था। कुछ दिनों से तनाव में था। फांसी लगाने के कारण के बारे में पता नहीं लगा। मृतक की भाभी का कहना है कि आपसी कोई झगड़ा नहीं था।

Posted By: Jagran