जागरण संवाददाता, काशीपुर: छात्रसंघ चुनाव में पांच छात्राओं को मतदान करने से रोका तो छात्राओं के साथ बूथ एजेंट भी भड़क गए। उन्होंने हंगामा काटना शुरू कर दिया। सूचना पर पुलिस भी पहुंच गई। पुलिस, शिक्षकों के साथ प्रत्याशियों के बूथ एजेंटों के बीच काफी नोंकझोक हुई। पुलिस व शिक्षकों के समझाने के बाद किसी तरह मामला सुलझा।

राधे हरि राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय के पीजी बि¨ल्डग में शनिवार को एक बूथ पर करीब दो बजे से पहले पांच छात्राएं मतदान करने पहुंची तो पीठासीन अधिकारी ने उनको मत देने से मना कर दिया। उन्होंने कहा कि मतदान करने का समय दो बजे का था और समय पूरा हो गया है। मत बॉक्स भी सील कर दी गई है। इस पर छात्राओं ने नाराजगी जताई तो एक एजेंट ने प्राचार्य से शिकायत की। प्राचार्य बूथ पर पहुंची तो एजेंट के साथ छात्राओं ने हंगामा काटना शुरू कर दिया। छात्रा ईरम, मोहसिन, शादान, नेहा ने कहा कि समय पर ही उन्हें महाविद्यालय परिसर में मतदान के लिए प्रवेश की अनुमति दी गई। दो बजने से करीब तीन मिनट पहले बूथ पर पहुंच गए थे। प्राचार्य डॉ. कमला शर्मा के समझाने पर भी छात्राएं मतदान की मांग को लेकर अड़ गई। सूचना पर पुलिस भी पहुंच गई। प्राचार्य, शिक्षकों व पुलिस कर्मियों के यह कहने पर छात्र शांत हुए कि मत बॉक्स सील पर पीठासीन अधिकारी के साथ एजेंटों का भी हस्ताक्षर है। काफी समझाने पर मामला शांत हुआ। छात्रसंघ चुनाव में मतदान करने पहुंचे 25 ऐसे मतदाता पकड़े गए। जिनके पास ऑरिजनल फीस रसीद थी तो मगर पहचान पत्र फर्जी थे। शिक्षकों ने हिदायत देकर उन्हें छोड़ दिया। ============== मतदान करने गया युवक गिरफ्तार काशीपुर: छात्रसंघ चुनाव में मतदान करने गया एक युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। चे¨कग के दौरान पहचान पत्र पर फोटो तारिम नाम का था। युवक व पहचान पत्र लगे फोटो के मिलान पर अंतर पाया गया। शक होने पर शिक्षकों ने उसे पकड़कर पुलिस को सौंपा तो उसने अपना नाम फरीद अहमद बताया। कहा कि तारिम के पहचान पत्र पर मतदान करने आया था। पुलिस ने युवक को आइटीआइ थाने के बंदीगृह में बंद कर दिया। ========= पुलिस ने फटकारी लाठियां काशीपुर: सड़क पर जाम लगने से पुलिस ने लाठियां फटकार छात्रों को खदेड़ा। जिससे यातायात बाधित न हो सके। पुलिस ने करीब डेढ़ बजे छात्रों को खदेड़ कर काफी दूर तक भगा दिया। साथ ही कहा कि माहौल खराब करने की कोशिश न करे।

Posted By: Jagran