Move to Jagran APP

...तो Dark Net से भेजा गया पंतनगर एयरपोर्ट को बम से उड़ाने की धमकी वाला मेल, पुलिस को मिले सुराग

Dark Net पुलिस की तकनीकी टीम डार्क नेट से तो धमकी भरा मेल नहीं भेजा गया है इस बिंदु पर भी जांच कर रही है। बता दें कि दिल्ली और उप्र के स्कूलों में बम रखने की धमकी के बाद 13 मई को पंतनगर एयरपोर्ट को भी बम से उड़ाने की धमकी मेल के जरिए दी गई थी। एयरपोर्ट पर अतिरिक्त सावधानी बरती जा रही है।

By virendra bhandari Edited By: Nirmala Bohra Published: Sat, 18 May 2024 02:10 PM (IST)Updated: Sat, 18 May 2024 02:10 PM (IST)
Dark Net: जांच में जुटी है पुलिस की तीन टीम

वीरेंद्र भंडारी, रुद्रपुर : Dark Net: पंतनगर एयरपोर्ट को बम से उड़ाने की धमकी मिलने के बाद जहां पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। वहीं पुलिस की तकनीकी टीम डार्क नेट से तो धमकी भरा मेल नहीं भेजा गया है, इस बिंदु पर भी जांच कर रही है।

पुलिस अधिकारियों के अनुसार अब तक हुई जांच में कुछ सुराग मिले हैं, जिस पर काम किया जा रहा है। इसके लिए पुलिस के साथ ही एसओजी और साइबर टीम लगी हुई है। ऐसे में माना जा रहा है कि पुलिस टीम जल्द ही पूरे मामले का पर्दाफाश कर सकती है।

13 मई को मेल पर दी पंतनगर एयरपोर्ट को बम से उड़ाने की धमकी

दिल्ली और उप्र के स्कूलों में बम रखने की धमकी के बाद 13 मई को पंतनगर एयरपोर्ट को भी बम से उड़ाने की धमकी मेल के जरिए दी गई थी। मामले में पुलिस ने विमानपत्तन सिविल एयरपोर्ट पंतनगर के निदेशक सुमित सक्सेना की तहरीर पर अज्ञात पर मुकदमा दर्ज कर लिया था, साथ ही विवेचना थानाध्यक्ष पंतनगर राजेंद्र सिंह डांगी को सौंप दी गई थी।

मुकदमा दर्ज होने के बाद एयरपोर्ट पर अतिरिक्त सावधानी बरती जा रही है। साथ ही एसओजी और साइबर सेल भी मामले की जांच में लगी हुई है। पता लगाया जा रहा है कि धमकी भरी मेल कहां से भेजी गई है। यही नहीं पुलिस की जांच टीम इंटरनेट पर चल रही (डार्क नेट) ऐसी वेबसाइड, जिसे आमतौर पर सर्च इंजनों पर ब्राउज नहीं किया जा सकता है, से तो मेल नहीं की गई है, इस बिंदु पर भी काम कर रही है।

साथ ही कई अन्य बिंदुओं पर भी पुलिस टीम काम कर रही है। अब तक हुई जांच में कुछ शुरुआती इनपुट पुलिस टीम को मिले हैं जिन पर काम किया जा रहा है। दो-तीन दिन के भीतर पुलिस किसी नतीजे पर पहुंचकर मामले का पर्दाफाश कर सकती है।

क्या होता है डार्कनेट?

पुलिस अधिकारियों के अनुसार इंटरनेट पर ऐसी कई वेबसाइट हैं। जिन्हें आमतौर पर सर्च इंजनों पर ब्राउज नहीं किया जा सकता। यह एक ऐसा नेटवर्क होता है जिस तक चुनिंदा समूहों की पहुंच होती है। इनका इस्तेमाल नशीले पदार्थों की तस्करी के साथ ही अन्य अवैध गतिविधियों के लिए किया जाता है।

यात्रियों और सामान की हो रही जांच

विमानपत्तन सिविल एयरपोर्ट पंतनगर के निदेशक सुमित सक्सेना ने बताया कि पंतनगर एयरपोर्ट पर आने जाने वाले यात्रियों की सघन चेकिंग की जा रही है। सुरक्षा को देखते हुए सभी यात्रियों के सामान की भी जांच की जा रही है। एयरपोर्ट में आने वाले लोगों के वाहनों को परिसर के बाहर ही पार्क करवाया जा रहा है।

धमकी भरे मेल की जांच पुलिस टीम कर रही है। पुलिस की अलग अलग टीम कई बिंदुओं पर काम कर रही है। जांच में कुछ शुरुआती इनपुट पुलिस टीम को मिले हैं। जिन पर काम किया जा रहा है। जल्द ही मामले का पर्दाफाश किया जाएगा। - मनोज कत्याल, एसपी सिटी, रुद्रपुर


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.