जागरण संवाददाता, रुद्रपुर : रम्पुरा में नव विवाहिता के फंदे से लटककर आत्महत्या करने के मामले में नया मोड़ आ गया है। मृतका के भाई ने उसके ससुरालियों पर दहेज के लिए उसका उत्पीड़न कर आत्महत्या करने के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया है। इस पर पुलिस ने आरोपित पति समेत चार ससुरालियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

रम्पुरा निवासी लीलाधर की पत्नी विमला उर्फ उर्मिला बुधवार शाम को मायके से वापस ससुराल लौटी थी। बताया जा रहा है कि गुरुवार सुबह लीलाधर घर से कहीं गया हुआ था। इसी बीच उसने कमरा बंद कर आत्महत्या कर ली थी। इसका पता चलते ही पुलिस पहुंची और शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया था। उर्मिला की मौत की खबर सुनकर उसका भाई टीचर कालोनी, किच्छा निवासी धर्मेंद्र पाल पुत्र रामस्वरूप अन्य स्वजनों के साथ रम्पुरा पहुंचा। इस दौरान उसने बहन के ससुरालियों पर दहेज के लिए उसका उत्पीड़न करने का आरोप लगाया। साथ ही बताया कि उर्मिला का विवाह 28 जून को लीलाधर के साथ हुआ था। विवाह के बाद से ही उसका पति लीलाधर, सास सुखिया और पुरानी गल्ला मंडी किच्छा निवासी ननद भगवान देई, ननदोई रमेश दहेज के लिए उसे परेशान करते थे, जिससे परेशान होकर उसकी बहन ने आत्महत्या कर ली। धर्मेद्र पाल की तहरीर के आधार पर पुलिस ने चारों ससुरालियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। कोतवाल बिजेंद्र शाह ने बताया कि पति समेत चार ससुरालियों पर आत्महत्या के लिए बाध्य करने का केस दर्ज किया है। जांच के बाद आरोपितों की गिरफ्तारी की जाएगी।

Edited By: Jagran