काशीपुर, उधमसिंह नगर [जेएनएन]: बिना बताए पत्नी के मायके चले जाने से क्षुब्ध युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। युवक की मौत के वाद परिवार के लोग सकते में हैं।   

मूल रूप से मोहल्ला गेट चंदर खां, रामपुर निवासी दीपक उर्फ काका (27) वर्ष पुत्र मेवाराम निवासी यहां ग्राम खड़कपुर देवीपुरा काशीपुर में किराये पर रहकर पल्लेदारी करता था। उसकी शादी तीन वर्ष पहले ग्राम महुआडाबरा जसपुर निवासी सोहन सिंह की पुत्री अंशु से हुई थी। 

रविवार रात दीपक काम से घर वापस आया तो पता चला कि उसकी पत्नी सुबह नौ बजे बिना बताए ही मायके चली गई। दीपक ने मां से यह कर सोने चला गया कि उसे सोमवार सुबह तीन बजे काम पर जाना है। समय से उसे जगा देना। 

सोमवार सुबह जब उसकी बहन जगाने के लिए गई तो दरवाजा अंदर से बंद था। कई बार भइया-भइया की आवाज लगाने के बाद भी कमरे से कोई रिस्पांस नहीं मिला। शक होने पर उसने मां को बुलाया। मां व बहन ने दरवाजे के बीच की झिर्री से टार्च जलाकर देखा तो उनके होश उड़ गए। दीपक एक चुन्नी के सहारे सीलिंग फैन से लटका हुआ था। 

सूचना पर मौके पर आइटीआइ थाना पुलिस ने दरवाजा की कुंडी तोड़कर अंदर जाकर युवक के शव को फंदे से उतरा। इसके बाद शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हाउस भेज दिया। मृतक की एक डेढ़ साल की बेटी है। दीपक तीन भाइयों में बीच का था। बड़े भाई की आठ साल पहले सड़क हादसे में मौत हो गई थी। 

परिजनों ने बताया कि रविवार की सुबह दीपक की पत्नी बिना बताए किसी के साथ बाइक से चली गई थी। उसने सास से मायके जाने की बात कही, वहीं, ननद को बताया कि पड़ोस में जा रही है। दोपहर मोबाइल पर फोन कर पता किया गया तो वह मायके नहीं पहुंची थी। अंशु शाम को मायके पहुंची। परिजन दीपक की पत्नी के अवैध संबंध होने की आशंका जता रहे हैं। परिजनों में कोहराम मचा रहा।

यह भी पढ़ें: खेतीखान में नवविवाहिता ने फंदा लगाकर दी जान

यह भी पढ़ें: फांसी लगाकर युवक ने की आत्महत्या 

यह भी पढ़ें: शिक्षक ने तनाव के चलते पंखे से लटककर दी जान

Posted By: Bhanu