काशीपुर, [जेएनएन]: मोहल्ला अल्लीखां में विद्युत मीटर रीडिंग करने गई टीम के एक कर्मचारी को लोगों ने बंधक बनाकर जमकर पीटा। इस दौरान उन्होंने मीटर रीडिंग मशीन और मोबाइल को भी तोड़ दिया। युवक को बंधक देख टीम के अन्य सदस्य इधर-उधर खिसक लिए। सूचना मिलते ही उर्जा निगम के कर्मचारियों में हड़कंप मच गया। करीब एक घंटे बाद कंपनी के सर्किल इंचार्ज ने युवक को बमुश्किल बंधन मुक्त कराया। मौके पर पुलिस पहुंचकर घटना की जानकारी ली। 

दरअसल, विद्युत मीटर बिल में पारदर्शिता लाने के लिए ऊर्जा निगम ने एक कॉन्ट्रेक्टर कंपनी को ठेका दिया है। कंपनी काशीपुर में मीटर रीडिंग व मीटर का फोटो लेकर मोबाइल एप में अपलोड करने का काम कर रही है। जिससे ऑफलाइन बिल को हार्डवेयर व सॉफ्टवेयर के द्वारा जीपीआरएस के जरिये जनरेट किया जाता है। मीटर से बिल निकालकर उसकी व मीटर की फोटो उपोभोक्ता को दी जाती है। 

रविवार को कंपनी के आठ-दस सदस्यों की टीम मोहल्ला अल्लीखां पहुंची। टीम के सदस्य अलग-अलग घरों व दुकानों में लगे विद्युत मीटर की फोटो लेकर रीडिंग करने लगे। इस बीच बड़ी मस्जिद के पास टीम के सदस्य सतपाल पुत्र गणेश सिंह निवासी ग्राम बघेलेवाला घर के बाहर लगे मीटर की रीडिंग करने लगे। इस दौरान मोहल्ले के करीब सौ लोगों ने गाली-गलौज करते हुए सतपाल को बंधक बनाकर उसकी पिटाई शुरू कर दी। सतपाल को पिटते देख उसके दो साथियों ने जब उसे बचाने की कोशिश की तो उनपर भी लोगों ने हमला कर दिया। इस बीच भीड़ का फायदा उठाकर दोनों सदस्य भाग गए। 

लोगों का गुस्सा देख टीम के अन्य सदस्य भी इधर-उधर खिसक लिए। सूचना मिलते ही उर्जा निगम में हड़कंप मच गया। टीडीएस मैनेजमेंट प्राइवेट कंपनी के सर्किल इंचार्ज हिमांशु खरे ने अन्य साथियों के साथ पहुंच कर बमुश्किल सतपाल को छुड़वाया। बाद में सूचना पर एसआइ जयपाल चौहान ने मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी ली। 

सतपाल ने एसडीओ ऊर्जा निगम अनिल कुमार के साथ कोतवाली में तहरीर देकर आरोपितों पर गाली- गलौज, बंधक बनाने, मीटर रीडिंग की मशीन व मोबाइल तोड़ने, मारपीट करने, राजकीय कार्यों में बाधा डालने व जान से मारने की धमकी का आरोप लगाया है। उसने तीन नामजद सहित अन्य आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। 

यह भी पढ़ें: जिला पंचायत के सदस्यों ने सीडीओ को बनाया बंधक

यह भी पढ़ें: सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने वाली ताकतों का रोकना होगा: प्रीतम सिंह

यह भी पढ़ें: सरकार का उद्देश्य अपराधमुक्त प्रदेश: मदन कौशिक 

 

Posted By: Raksha Panthari