नई टिहरी, [जेएनएन]: श्रीदेव सुमन विवि के सचल दस्ते ने हरिद्वार जिले के तीन परीक्षा केंद्रों में परीक्षार्थियों को मोबाइल फोन और इंटरनेट की मदद से सामूहिक नकल करते हुए पकड़ा है। इसके बाद टीम ने चार परीक्षा कक्षों को सील कर दिया। एक अन्य केंद्र में चार परीक्षार्थी नकल करते पकड़े गए हैं।

श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय की इनदिनों एमएससी रसायन विज्ञान, गणित की वार्षिक परीक्षाएं चल रही हैं। शनिवार को विवि के कुलसचिव डॉ. दीपक भट्ट के नेतृत्व में टीम ने हरिद्वार जिले के परीक्षा केंद्रों का औचक निरीक्षण किया। गुरुकुल नारसन में विंध्य विकासिनी परीक्षा केंद्र में जब टीम पहुंची तो वहां पर तीसरी मंजिल पर परीक्षार्थियों को बैठाया गया था। इस पर कुलसचिव ने केंद्र व्यवस्थापक को फटकार लगाई। 

कमरे में बैठे चारों परीक्षार्थी नकल करते मिले। कुलसचिव ने पहले या भूतल पर परीक्षाएं कराने को निर्देशित किया। इसके बाद टीम नारसन रिम्स परीक्षा केंद्र पहुंची तो वहां पर दो कमरों में परीक्षार्थी मोबाइल और इंटरनेट की मदद और अन्य किताबों से नकल करते हुए पकड़े गए। यहां पर दो कमरे सील किए गए। 

यहां से आगे बढ़े सचल दस्ते को भगवानपुर के रुड़की कालेज ऑफ फार्मेसी के दो कमरों में परीक्षार्थी खुलेआम मोबाइल का प्रयोग करते हुए सामूहिक रूप से नकल करते हुए पकड़े गए। कुलसचिव डॉ. दीपक भट्ट ने बताया कि भगवानपुर और नारसन के परीक्षा केंद्रों में पहले भी शिकायतें मिली थीं। इसी के बाद उन्होंने छापेमारी की। यहां चार कमरों में लगभग 60 परीक्षार्थी नकल करते हुए पकड़े गए हैं। कुलसचिव ने भविष्य के लिए इन केंद्रों को ब्लैक लिस्ट करने की बात कही। सचल दस्ते में परीक्षा नियंत्रक डॉ. हेमंत बिष्ट भी शामिल रहे।  

यह भी पढ़ें: हिमालयन इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मेसी एंड रिसर्च का परीक्षा केंद्र रद, जानिए वजह

यह भी पढेें: वाचमैन की परीक्षा में ब्लूटूथ से कर रहे थे नकल, दो दबोचे

Posted By: Raksha Panthari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप