संवाद सहयोगी, कोटद्वार: कोटद्वार बार एसोसिएशन ने नैनीताल हाईकोर्ट को कोटद्वार में शिफ्ट करने की मांग की है। कहा कि नैनीताल एक पर्यटक स्थल है, ऐसे में वहां जाने वाले लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

गुरुवार को सिम्मलचौड़ में एसोसिएशन की बैठक आयोजित की गई। अधिवक्ताओं ने कहा कि प्रदेश सरकार नैनीताल हाईकोर्ट को मैदानी क्षेत्र में शिफ्ट करना चाहती है, इसके लिए कोटद्वार से बेहतर विकल्प कोई नहीं हो सकता। कहा कि वर्तमान स्थिति के हिसाब से हाईकोर्ट नैनीताल से हटाया जाना ही बेहतर है। नैनीताल एक पर्यटक स्थल होने के कारण वहां लाखों की संख्या में पर्यटक पहुंचते हैं, जिससे सड़कों पर जाम की स्थिति बनी रहती है। साथ ही न्यायालय में आने वाले लोगों को होटलों में रहने के लिए कमरे तक नहीं मिल पाते। नैनीताल में रेल व्यवस्था भी नहीं है, जिससे न्याय के लिए पहुंचने वाले लोगों को वाहन बुक कर पहुंचना पड़ता है। ऐसे में उन्हें आर्थिक परेशानी होती है। इस मौके पर बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष अजय कुमार पंत, प्रवेश रावत, अरविद वर्मा, प्रमोद राणा, इंद्रेश भाटिया, संजय जोशी, विनोद कुमार, आनंद सिंह, राजेश कुमार आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस