संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग: द्वितीय केदार भगवान मदमहेश्वर की डोली के ऊखीमठ आगमन पर लगने वाले तीन दिवसीय मेले की तैयारियों में समिति जुट गई है। मेला समिति की ओर से इस बार मेले को भव्य रूप दिया जाएगा।

प्रतिवर्ष मदमहेश्वर की डोली आगमन पर ऊखीमठ में 23 से 25 नवंबर तक तीन दिवसीय मेले का आयोजन किया जाता रहा है। इसको लेकर मेला समिति की ओर से प्रचार प्रसार शुरू हो गया है। मेले का उद्घाटन 23 नवंबर को केदारनाथ के रावल भीमाशंकर लिग करेंगे। मेले के उद्घाटन में स्कूली छात्र छात्राओं व महिला मंगलदलों की ओर से रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियां दी जाएंगी। इसी दिन रात्रि को ऊषा ग्रुप ऊखीमठ की ओर से भीम, घटोत्कच मिलन नाटक के साथ ही अन्य कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाएंगे। 24 नवंबर को डोली आगमन पर सूबे के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के पहुंचने का कार्यक्रम प्रस्तावित है। इसी दिन रात्रि को लोकगायक अमित सागर व हेमा नेगी करासी की ओर से रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाएंगे। मेले में भीम घटोत्कच नाटक, रंगोली प्रतियोगिता, आर्ट एवं क्राफ्ट गैलरी व कवि सम्मेलन विशेष आकर्षण का केंद्र रहेंगे। पूर्व में गठित मेले की नई कार्यकारिणी में नगर पंचायत अध्यक्ष विजय राणा को सर्वसम्मति से मेलाध्यक्ष चुना गया। इसके अलावा सचिव प्रकाश रावत, कोषाध्यक्ष कैलाश पुष्पवान एवं महामंत्री विजेंद्र नेगी को चुना गया। मेले के सचिव प्रकाश रावत ने बताया कि खेलकूद प्रतियोगिताओं में बैडमिटन व बॉलीबाल का आयोजन किया जाएगा। राइका ऊखीमठ के खेल मैदान में आयोजित इस मेले में विभिन्न विभागों द्वारा स्टॉल भी लगाए जाएंगे जिसमें स्थानीय उत्पादित सामग्री के साथ ही निíमत सामग्री की प्रदर्शनी लगायी जाएगी।

-----------

यह डोली कार्यक्रम

21 नवंबर- मदमहेश्वर मंदिर के कपाट बंद डोली रात्रि विश्राम गौंडार

22 नवंबर- गौंडार से मदमहेश्वर की डोली प्रस्थान कर रात्रि विश्राम रांसी

23 नवंबर- रांसी से मदमहेश्वर की डोली प्रस्थन कर रात्रि विश्राम गिरिया

24 नवंबर- गिरिया से प्रस्थान कर डोली ओंकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ पहुंचेगी

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस