रुद्रप्रयाग, जेएनएन। केदारनाथ में सरस्वती नदी पर गरुड़चट्टी को जोड़ने वाला स्थायी पुल तैयार होने वाला है। रुद्रप्रयाग के जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल के अनुसार नवंबर तक पुल पर आवाजाही शुरू कर दी जाएगी। अभी अस्थायी पुल का इस्तेमाल किया जा रहा है। 

इन दिनों केदारनाथ में पुनर्निर्माण कार्य को पूरा करने की दिशा में तेजी आई है। वजह यह कि सर्दियों में बर्फबारी के बीच निर्माण की रफ्तार मंद पड़ जाती है। जिलाधिकारी ने बताया कि वर्ष 2013 में आपदा के दौरान सरस्वती नदी पर बना पुल बह गया था। इसके बाद यहां अस्थायी पुल का निर्माण कराया गया। अभी इसी पुल से आवाजाही हो रही है। केदारनाथ से गरुड़चट्टी की दूरी साढ़े तीन किलोमीटर है। कभी केदारनाथ यात्रा का प्रमुख पड़ाव रहा गरुड़चट्टी अब वीरान है। दरअसल, आपदा के बाद पुराने मार्ग की जगह नया रास्ता बनाया गया।   

इसके अलावा भैरवनाथ मंदिर तक जाने वाले मार्ग पर भी बन रहे पुल का निर्माण 80 फीसद तक पूरा हो गया है। जिलाधिकारी के अनुसार अगले यात्रा सीजन से पहले इस पुल का निर्माण भी पूरा हो जाएगा। जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के सहायक अभियंता दीपचन्द्र नवानी ने बताया कि निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है। उन्होंने बताया कि इन दोनों पुलों के बन जाने से बरसात में भी गरुड़चट्टी और भैरवनाथ मंदिर तक आवाजाही सुगम हो जाएगी। 

यह भी पढ़ें: भंडारीबाग आरओबी को शासन ने दी स्वीकृति, महापौर ने किया निरीक्षण Dehradun News

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस