संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग: केदारनाथ यात्रा के सफल संचालन के लिए जहां शासन-प्रशासन ने कमर कस ली है, वहीं यात्रा के विभिन्न पड़ावों पर व्यवसायियों से जुडे़ व्यापारियों ने यात्रा की तैयारियों में शुरू कर ली है। होटल व लॉज व्यवसायियों ने रंग रोगन एवं साफ सफाई का कार्य शुरू कर दिया है। आपदा के बाद पटरी पर लौटी केदारनाथ यात्रा को लेकर इस वर्ष व्यापारी काफी उम्मीद संजोए हुए हैं।

शीतकाल प्रवास के बाद आगामी नौ मई को भगवान केदारनाथ के कपाट आम भक्तों के लिए खोले दिए जाएंगे। इसको लेकर शासन-प्रशासन ने तैयारियों के लिए कमर कस ली है। यात्रा को लेकर शासन के उच्च अधिकारी व स्थानीय प्रशासन भी लगातार तैयारियों की समीक्षा कर रहा है। सीतापुर के व्यापारी सुरेश कर्नाटकी कहते हैं कि आपदा के बाद से यात्रियों की संख्या में आई कमी से वर्ष 2016 तक यहां के व्यवसायियों को काफी नुकसान झेलना पड़ा है। तीर्थ पुरोहित श्रीनिवास पोस्ती कहते हैं कि इस बार यात्रा को लेकर सभी व्यापारियों में भारी उत्साह है, उम्मीद है कि इस बार यात्री बड़ी संख्या में बाबा केदार के दर्शनों को आएंगे। केदारघाटी में यात्रा मार्ग पर जुड़े व्यापारी-औसतन 35 हजार

प्रति वर्ष यात्रा सीजन में औसत कारोबार-120 करोड़ यात्रा को लेकर तैयारियां चल रही है। यात्रियों को किसी भी प्रकार का दिक्कत न हो इसका पूरा ध्यान रखा जाएगा। यात्रा शुरू होने से पूर्व सभी तैयारियां पूरी कर ली जाएंगी।

मंगेश घिल्डियाल

जिलाधिकारी, रुद्रप्रयाग

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप