संवाद सहयोगी, पिथौरागढ़: तेल और वाहनों में तकनीकी दिक्कत के चलते 108 एंबुलेंस और खुशियों की सवारी सेवा फिर ठप हो गई है। जिले में आधे से अधिक वाहन मंगलवार को नहीं चले। जिसके चलते दूरदराज के मरीजों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

सड़क हादसों में घायल तथा पसूता के लिए वरदान साबित हो रही 108 आपात सेवा जिले में फिर लड़खड़ गई है। इसके अलावा गरीब मरीजों के लिए शुरू की गई अति आवश्यकीय सेवा में पिछले कुछ समय से व्यवधान आ रहा है। पिछले माह दोनों सेवाएं कई दिनों तक ठप रही थी। तब सरकार से वाहनों में तेल की व्यवस्था के लिए बजट नहीं मिल रहा था। पिछले कुछ दिनों से फिर तेल की समस्या खड़ी हो गई है। तेल के अभाव में वाहन खड़े हो गए हैं। दूरदराज के क्षेत्रों से आपात स्थिति वाले मरीजों को वाहनों का लाभ नहीं मिल पा रहा है। गरीब मरीज कर्ज लेकर वाहन बुक कराकर जिला चिकित्सालय पहुंच रहे हैं। आए दिन सेवाओं में व्यवधान आने से लोग खासे परेशान हैं। बुधवार को जिला मुख्यालय, थल, बेरीनाग, गंगोलीहाट, डीडीहाट और मुनस्यारी में कई वाहनों का संचालन ठप रहा। तेल और तकनीकी की समस्या के चलते आए दिन वाहन खड़े हो जाने से जिले के लोगों में खासा आक्रोश है। सामाजिक कार्यकर्ता कृष्णानंद कापड़ी ने जरू री सेवाओं में आ रहे व्यवधान को अविलंब दूर किए जाने की मांग की है। पिछले सप्ताह वाहनों में तेल और तकनीकी समस्या की दिक्कत आई थी। सोमवार को तेल की समस्या का मामला जिलाधिकारी के सामने रखा गया था। जिलाधिकारी की पहल पर वाहनों को तेल मिलने लगा है। मंगलवार को कुछ जगहों पर वाहनों का संचालन शुरू हो गया।

-प्रमोद भट्ट, जिला प्रभारी 108 सेवा

Posted By: Jagran