संस, पिथौरागढ़ : जिले के प्रसिद्ध मंदिर होकरा में पॉलीथिन और थर्माकोल से बनी सामग्री लाने पर प्रतिबंध लगेगा। आओ अपना गांव संवारे अभियान के तहत शनिवार को होकरा गांव में हुई बैठक में यह फैसला हुआ।

सोच संस्था के तत्वाधान में चलाए जा रहे अभियान के तहत होकरा, खोयम और गौला गांव के ग्रामीणों की संयुक्त बैठक में गांवों की समस्या पर चर्चा हुई। शिक्षा, संचार और सड़क को ग्रामीणों ने मुख्य समस्या बताई। ग्रामीणों ने तय किया कि इन मुद्दों को पहले प्रशासन के सामने रखा जाएगा। समाधान नहीं होने पर प्रदेश के मुख्यमंत्री से मुलाकात की जाएगी। सोच संस्था के अध्यक्ष जगत मर्तोलिया ने ग्रामीणों को स्वच्छता अभियान की जानकारी दी और ग्रामीणों से कहा कि वे अपने परिवेश को साफ सुथरा रखें और अन्य लोगों को भी इसके लिए प्रेरित करें। बैठक में तय हुआ कि गांवों में नियमित सफाई के साथ ही साथ हर घर में कूड़ेदान लगाए जायेंगे। ग्रामीणों ने कहा है कि होकरा मंदिर पूरे कुमाऊं क्षेत्र में प्रसिद्ध है। हर वर्ष बड़ी संख्या में श्रद्धालु यहां आते हैं। ग्रामीणों ने होकरा को धर्मगांव घोषित करने की मांग करते हुए कहा कि इससे गांव को नई पहचान मिलेगी। बैठक में बलवंत सिंह, गोपाल मेहता, नैन सिंह, मोहन सिंह, खुशाल मेहता आदि ग्रामीण मौजूद थे।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran